Saturday , 15 December 2018
Breaking News

यौन उत्पीड़न मामले में पुलिस पचौरी को दस्तावेज मुहैया कराए: कोर्ट

नई दिल्ली, 14 नवम्बर (उदयपुर किरण). पर्यावरणविद् और टेरी के पूर्व प्रमुख आरके पचौरी के खिलाफ दायर यौन उत्पीड़न के मामले में सुनवाई करते हुए दिल्ली की साकेत कोर्ट ने दिल्ली पुलिस को निर्देश दिया कि वे आरोपित आरके पचौरी को दस्तावेज उपलब्ध कराएं. एडिशनल सेशंस जज संजीव कुमार ने बुुुधवार को मामले की जांच कर रहे जांच अधिकारी को निर्देश दिया वे पुलिस द्वारा जब्त इलेक्ट्रॉनिक डिवाइस की इमेज या क्लोन कॉपी आरोपित को उपलब्ध कराएं.

आरके पचौरी ने मेट्रोपोलिटन मजिस्ट्रेट के आदेश के खिलाफ सेशंस कोर्ट में याचिका दायर की थी. इस याचिका पर सुनवाई करते हुए कोर्ट ने जांच अधिकारी को आरके पचौरी को दस्तावेज सौंपने का निर्देश दिया. पिछले 20 अक्टूबर को कोर्ट ने उनके खिलाफ भारतीय दंड संहिता की धारा 354, 354ए और 509 के तहत आरोप तय किए थे. कोर्ट ने शिकायतकर्ता को 4 और 5 जनवरी, 2019 को कोर्ट में अपना बयान दर्ज कराने और क्रास एग्जामिनेशन के लिए पेश होने का निर्देश दिया.

पचौरी के खिलाफ एक मार्च, 2016 को निर्भया एक्ट के तहत आरोप पत्र दायर किया गया था. इसके पहले पटियाला हाउस कोर्ट ने इस मामले की मीडिया में रिपोर्टिंग पर रोक लगाने की मांग खारिज कर दी थी. एडिशनल डिस्ट्रिक्ट जज सुमित दास ने अपने फैसले में सभी मीडिया संस्थानों को सलाह दी थी कि वे खबर छापने से पहले पचौरी या उनके प्रतिनिधि का मत भी छापें और ये बताएं कि ये मामला कोर्ट में लंबित है. कोर्ट ने अपने फैसले में कहा था कि रिपोर्टिंग करते समय गर्मी पैदा करने की बजाय रोशनी देनी चाहिए. दरअसल पचौरी के खिलाफ फरवरी 2015 में उनकी एक महिला सहकर्मी ने यौन उत्पीड़न की शिकायत की थी.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*