Saturday , 15 December 2018
Breaking News

प्रतिदिन सड़क दुर्घटना में जाती है 16 से अधिक लोगों की जान: एडीजीपी

यमुनानगर, 15 नवम्बर (उदयपुर किरण). हरियाणा के मुख्यमंत्री के विशेष अधिकारी एवं एडीजीपी ओपी सिंह ने जानकारी देते हुए बताया कि भारत सरकार के परिवहन मंत्रालय के परिवहन अनुसंधान इकाई की एक रिपोर्ट के अनुसार देशभर में 2016 में 4 लाख 80 हजार 652 सड़क दुर्घटनाएं हुई थीं, जिसमें एक लाख 50 हजार 785 लोगों की मौत हो गई. इसका तात्पर्य है कि हर एक मिनट पर एक गंभीर सड़क हादसा, हर घंटे 16 और हर रोज 377 लोगों की सड़क दुर्घटनाओं में मौत होती है.
मुख्यमंत्री के विशेष अधिकारी एवं एडीजीपी ओपी सिंह गुरुवार को अधिकारियों की बैठक को संबोधित कर रहे थे. उन्होंने यह भी बताया कि प्रतिदिन मरने वालों में बीस लोग 14 साल से भी कम उम्र के थे. दो तिहाई लोग 18 से 45 आयु वर्ग के थे. दूसरी तरफ, हेलमेट नहीं पहने की वजह से पूरे साल में 10 हजार 135 लोगों ने अपनी जान गवाई यानी कि हर रोज 28 लोगों की जान हेलमेट नहीं पहने की वजह से चली गई. कार में सीट बेल्ट नहीं बांधने की वजह से 15 लोग हर रोज मौत के मुंह में चले गए, जबकि 5 हजार दुर्घटनाएं मोबाइल पर बात करने की वजह से हो गई. जिस कारण 2 हजार से भी ज्यादा जाने बेवजह चली गर्इं. उन्होंने कहा कि इसी बात को ध्यान में रखते हुए हरियाणा सरकार ने यमुनानगर में मैराथन रन फॉर रोड सेफ्टी का आयोजन एक दिसम्बर 2018 को सुबह 7 बजे जगाधरी बस स्टैंड से प्रारम्भ करने का फैसला लिया है. जिसकी तैयारियां यमुनानगर प्रशासन और पुलिस प्रशासन के द्वारा युद्ध स्तर पर शरू कर दी गई है.
उपायुक्त गिरीश अरोड़ा ने बताया कि शुक्रवार 16 नवम्बर को यमुनानगर मैराथन रन फॉर रोड सेफ्टी का लोगो(प्रतीक) लोकार्पित किया जाएगा. लोगो की रचना बहुत ही आकर्षक व प्रेरणा देने वाली है. उन्होंने यह भी बताया कि यमुना नगर मैराथन रन फॉर रोड सेफ्टी का आयोजन समिति 16 नवम्बर को ही जिला के सभी मीडिया के प्रतिनिधियों के साथ वार्ता करेगी और मीडिया को मैराथन के बारे में आवश्यक जानकारी उपलब्ध करवाई जाएगी.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*