Thursday , 21 February 2019
Breaking News

चोरी गई कार का बीमा ब्याज सहित देने के आदेश

उदयपुर. एनएच-79 पर चालक की आंखों के सामने से गुलाबपुरा थाना क्षेत्र में चोरी गई कार का कम्पनी द्वारा इंश्योरेंस देने से इनकार करने पर स्थाई लोक अदालत ने बीमा कम्पनी यूनिवर्सल सोम्पो जनरल इंश्योरेंस कम्पनी लिमिटेड के खिलाफ आदेश पारित कर दो माह में कार की कीमत और ब्याज एवं मानसिक परेशानी, परिवाद व्यय के दस हजार रूपए पृथक से देने के आदेश दिए.

प्रकरण के अनुसार आदर्श कॉलोनी निम्बाहेड़ा हाल महावीर कॉलोनी उदयपुर निवासी उमा देवी बोडाना (66) पत्नी कुशाल सिंह जैन ने यूनिवर्सल सोम्पो जनरल इंश्योरेंस कम्पनी लिमिटेड जरिये शाखा प्रबंधक जीवन ज्योति कॉम्पलेक्स सूरजपोल के खिलाफ स्थाई लोक अदालत में परिवाद पेश किया, जिसमें बताया कि उसने 8,32,723 रूपए कीमत की कार की 12 जुलाई 2017 से 11 जुलाई 2018 तक की अवधि की प्राईवेट कार पैकेज पॉलिसी कराई. कार का चालक हीरालाल 23 दिसम्बर 2017 को जयपुर सवारी छोडक़र वापस उदयपुर आ रहा था, रात करीब साढ़े 12 बजे नेशनल हाईवे-79 कवलियावास पुलिया के पास लघुशंका आने पर कार को सडक़ किनारे खड़ी कर लघुशंका करने गया, इसी दौरान दो युवक आए और कार को स्टार्ट कर तेज गति से ले गए वह चिल्लाया और उनके पीछे भागा लेकिन कार से कट को घुमा कर जयपुर की तरफ आरोपी भाग गए. इस पर ड्राईवर ने तुरन्त वाहन मालिक को सूचना दी. इस वारदात की भीलवाड़ा जिले के गुलाबपुरा थाने में मामला दर्ज कराया गया. उसी दिन बीमा कम्पनी को सूचना दी व टोल फ्री नम्बर पर क्लेम दर्ज करा दिया गया.

बीमा कम्पनी का कहना है कि गाड़ी में चाबी लगा रखी थी और सावधानी नहीं बरती गई, जिसके कारण घटना हुई है, जबकि पुलिस ने चालक के सामने कार चोरी की पुष्टि की है. दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद स्थाई लोक अदालत के अध्यक्ष के.बी. कट्टा व सदस्य सुशील कोठारी ने यूनिवर्सल सोम्पो जनरल इंश्योरेंस कम्पनी लिमिटेड के खिलाफ आदेश पारित कर कार मालिक को कार की कीमत 8,32,723 रूपए दो माह में और उस पर गत 4 अप्रेल से 10 प्रतिशत वार्षिक ब्याज, मानसिक परेशानी, परिवाद व्यय के दस हजार रूपए पृथक से देने के आदेश दिए.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline
if:
Inline
if: