Friday , 14 December 2018
Breaking News

करोड़ों रूपए की मैडे्रक्स का मामला

एक और आरोपी के खिलाफ आरोप तय

उदयपुर. करोड़ों रूपए के मैड्रेक्स का अवैध निर्माण, भंडारण एवं निर्यात के मामले में मुख्य आरोपी के मुंबई के एक और सहयोगी के खिलाफ अदालत ने आरोप तय कर लिया है. इस मामले में लिप्त अन्य आरोपियों के खिलाफ पूर्व में आरोप तय कर लिए गए. अब लगाए गए आरोपों पर बहस होगी.

विशिष्ट लोक अभियोजक प्रवीण खंडेलवाल ने पेश जवाब में बताया कि नवी मुंबई निवासी अतुल म्हात्रे पुत्र दिलीप म्हात्रे स्वापक औषधि एवं मन प्रभावी पदार्थ (नियंत्रित पदार्थों का विनियमन) आदेश 1993 एवं 2013 के तहत जारी लाईसेंस के बिना ऐसटिक एन हाइड्राईड (नियंत्रित पदार्थ) मुख्य आरोपी सुभाष दुदानी के साथ मिलकर विनिर्माण करने का आरोप है. इस नियंत्रित पदार्थ का प्रयोग मैथाकुलोन ड्रग्स का निर्माण कर अधिनियम की धारा 9 (ए) का उल्लंघन कर स्वापक औषधि एवं मन प्रभावी पदार्थ अधिनियम 1985 की धारा 25 (ए) के अधीन दंडनीय अपराध किया है.

अदालत ने माना कि आरोपी ने अपराधिक षडय़ंत्र का सक्रिय हिस्सा बनते हुए अन्य आरोपियों के साथ मिलकर मैथाकुलोन टेब्लेट्स के निर्माण में विनिर्माण के लिए आवश्यक ऐसटिक एन हाईड्राईड के विनिर्माण के लिए महत्वपूर्ण भूमिका निभा कर स्वापक औषधि एवं मन प्रभावी अधिनियम 1985 की धारा 29 के तहत अधीन दंडनीय अपराध किया है. विशिष्ट न्यायालय (एनडीपीएस प्रकरण) की पीठासीन अधिकारी प्रभा शर्मा ने आरोपी अतुल म्हात्रे के खिलाफ एनडीपीएस एक्ट 1985 की धारा 29 के तहत आरोप सुनाया. अब सुनाए गए आरोप पर बहस होगी. उल्लेखनीय है कि मुख्य अभियुक्त सुभाष दुदानी सहित 6 आरोपियों के खिलाफ पूर्व में आरोप सुनाए जा चुके है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*