अमेरिका में एक और गुजराती की मौत, मोटल व्यवसायी वडोदरा के मूल निवासी थे


अहमदाबाद (Ahmedabad) . अमेरिका के न्यूजर्सी में एक और गुजराती की कोरोना से मौत हो गई है. गुजरात के वडोदरा के मूल निवासी 40 वर्षीय मयंक राव मोटल व्यवसायी थे और पिछले 40 साल से अमेरिका में रह रहे थे. मयंक राव की मौत से वडोदरा स्थित उनका परिवार शोक में डूब गया.

भारत समेत दुनियाभर में कहर बरपा रहा कोरोना अब तक हजारों जिंदगियों को निगल चुका है. अमेरिका, फ्रांस, इटली, जर्मीनी जैसे ज्यादातर विकसित देश कोरोना के आगे घुटने टेक चुके हैं. विश्वभर में कोरोना से सबसे भयावह हालात अमेरिका में है, जहां 4 लाख से ज्यादा कोरोना पॉजिटिव के मरीज हैं और अब तक 12000 से ज्यादा लोगों की मौत हो चुकी है. दुनिया में सबसे शक्तिशाली देश माने जाते अमेरिका ने कोरोना के सामने लाचार नजर रहा है. कोरोना से अमेरिका में प्रति दिन सैंकड़ों मौतें हो रही हैं और उसकी चपेट में भारतीय भी आ रहे हैं.

  अगस्त से पहले इंटरनेशनल फ्लाइट्स शुरू करने की कोशिश करेंगे

लंदन में गुजरात के मूल के हार्ट सर्जन की मौत हो गई थी. दक्षिण गुजरात के नवसारी जिले की चीखली तहसील के सादकपोर गांव के मूल निवासी 60 वर्षीय डॉ. जितेन्द्र राठौड़ लंदन में कोरोनाग्रस्त मरीजों की सेवा में लगे हुए थे. इस दौरान वह भी कोरोना संक्रमित हो गए और उनकी मौत हो गई. डॉ. जितेन्द्र राठौड़ की मौत के बाद अब अमेरिका के न्यूजर्सी में वडोदरा के मयंक राव की मौत हो गई है. वडोदरा के फतेगंज क्षेत्र की सुवास कॉलोनी में मयंक राव का परिवार रहता है. मयंक राव अमेरिका का न्यूजर्सी में मोटल चलाते थे. मयंक राव की मौत से परिवार में मातम पसर गया.

  भारतीय चिकित्सा पद्धतियों को बढ़ावा देगी सरकार : गहलोत

Check Also

बिना पासपोर्ट के यूपी के कामगारों को काम नहीं

लखनऊ (Lucknow).यूपी के मुख्यमंत्री (Chief Minister) आदित्यनाथ ने यूपी के उन श्रमिकों जो राज्य के …