अल्पसंख्यक वर्ग के विद्यार्थी लें पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप का लाभ: साधु सिंह धर्मसोत

चंडीगढ़, 11 अगस्त (उदयपुर (Udaipur) किरण). पंजाब (Punjab) के सामाजिक न्याय, अधिकारिता और अल्पसंख्यक मंत्री स. साधु सिंह धर्मसोत ने राज्य के अल्पसंख्यक वर्ग से सम्बन्धित विभिन्न संस्थाओं में पढ़ रहे विद्यार्थियों को स्कॉलरशिप स्कीमों का लाभ लेकर अपने जीवन में निश्चित किया स्थान हासिल करने का आमंत्रण दिया है. धर्मसोत ने कहा कि पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप स्कीम के अंतर्गत वजीफा लेने के लिए राज्य के सिख, मुस्लिम, ईसाई, बौद्ध धर्म का अनुयायी, पारसी और जैन वर्गों से सम्बन्धित विद्यार्थी ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं.

साधु सिंह ने बताया कि शैक्षिक सत्र 2018-19 के दौरान विद्यार्थी 30 सितम्बर,2018 तक नये/रीन्यूअल आवेदनपत्र के लिए ऑनलाइन अप्लाई कर सकते हैं. स. धर्मसोत ने बताया कि सरकारी, ग़ैर सरकारी और मान्यता प्राप्त स्कूलों, कॉलेजों और यूनिवर्सिटियों सहित रिहायशी संस्थाओं, पॉलिटेक्निक कॉलेजों, आईटीआई, औद्योगिक प्रशिक्षण सेंटरों में पढ़ रहे विद्यार्थी ऑनलाइन आवेदनपत्र नेशनल स्कॉलरशिप पोर्टल वेब-साइट के द्वारा भेज सकते हैं. उन्होंने बताया कि यह स्कीम 100 प्रतिशत केंद्रीय प्रायोजित स्कीम है.

स. धर्मसोत ने बताया कि पोस्ट-मैट्रिक स्कॉलरशिप के लिए वे विद्यार्थी अप्लाई कर सकते हैं, जिनके माता-पिता की आय 2 लाख रुपये सालाना, विद्यार्थी पंजाब (Punjab) का मूल निवासी हो, रेगुलर तौर पर पढ़ रहा हो और उसने पिछली परीक्षा में कम से कम 50 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हो. उन्होंने बताया है कि एक परिवार के दो से अधिक विद्यार्थी इस स्कॉलरशिप स्कीम का लाभ नहीं ले सकेंगे, जबकि इस स्कीम के अधीन स्कॉलरशिप प्राप्त करने वाला विद्यार्थी पंजाब (Punjab) सरकार या भारत सरकार की किसी भी अन्य स्कीम अधीन ऐसा लाभ प्राप्त नहीं कर सकेगा.

स. धर्मसोत ने बताया कि वजीफे के नवीनीकरण के लिए वहीं विद्यार्थी हकदार होंगे, जिन्होंने अपने इम्तिहान में कम से कम 50 प्रतिशत अंक प्राप्त किए हों. उन्होंने बताया कि 11वीं और 12वीं क्लासों के लिए दाखि़ला और ट्यूशन फीस के लिए वजीफा 7 हजार रुपये सालाना, 11वीं और 12वीं स्तर पर तकनीकी वोकेशनल पाठ्यक्रमों के लिए दाखि़ला और ट्यूशन /पाठ्यक्रम फीस 10 हज़ार रुपये सालाना, अंडर ग्रैजुएट/पोस्ट ग्रैजुएट के लिए दाखि़ला और ट्यूशन फीस 3 हज़ार रुपये सालाना, एक शैक्षिक सत्र में 10 महीने मेंटिनेंस अलाउंस 11वीं, 12वीं 380 रुपये प्रति माह और तकनीकी वोकेशनल पाठ्यक्रमों के लिए 230 रुपये प्रति माह और ग्रैजुएट और पोस्ट ग्रैजुएट स्तर पर टैक्निकल और प्रोफेशनल पाठ्यक्रमों के इलावा अन्य पाठ्यक्रमों के लिए 570 रुपये प्रति माह दिए जाएंगे. इसके इलावा जिन विद्यार्थियों को किसी भी यूनिवर्सिटी या अथॉरिटी द्वारा फैलोशिप न मिल रही हो, को एम.फिल और पी.एचडी के लिए 1200 रुपये प्रति माह वज़ीफ़ा दिया जाएगा.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *