Sunday , 22 September 2019
Breaking News

आतंकवाद पर पाकिस्‍तान का सबसे बड़ा कबूलनामा

इमरान खान ने कहा- अमेरिका के कहने पर हमने लगाई थी आतंक की फैक्ट्री

इस्लामाबाद . पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने कबूल कर लिया है कि कई कुख्यात आतंकी संगठन उनके मुल्क की जमीन पर पैदा हुए और पले-बढ़े. इमरान ने स्वीकार किया है कि सोवियत संघ के जमाने में पाकिस्तान ने आतंकियों को ट्रेनिंग दी थी.

imran-terror

पाकिस्तानी प्रधानमंत्री ने इन आतंकी संगठनों के लिए अमेरिका को जिम्मेदार ठहराया है. इमरान ने कहा, ’80 के दशक में जब सोवियत संघ ने अफगानिस्तान पर कब्जा कर लिया तो इन मुजाहिदीनों को जिहाद के लिए तैयार किया गया. इसकी फंडिंग अमेरिका की खुफिया एजेंसी CIA ने की थी.’

यह भी पढ़िए   दूषित पाए गए सरबत के पानी व बर्फ के लिए गए नमूने

अमेरिका पर बरसते हुए इमरान ने कहा, ‘एक दशक के बाद जब अमेरिकी खुद अफगानिस्तान में आ गए तो यह जिहाद नहीं आतंकवाद हो गया. यह बड़ी विडंबना है. मुझे लगता है कि पाकिस्तान को न्यूट्रल रहना चाहिए था क्योंकि इन संगठनों में शामिल होना हमारे लिए नुकसानदेह साबित हुआ और हमने अपने 70 हजार लोगों को खो दिया. हमें 100 अरब डॉलर का आर्थिक नुकसान हुआ.’ इमरान ने कहा कि अंत में अमेरिकियों ने पाकिस्तान को नाकामी का सेहरा पहना दिया. उन्होंने कहा कि यह पाकिस्तान के साथ गलत हुआ.

गौरतलब है कि बीते कुछ सालों में अमेरिका और पाकिस्तान के रिश्तों में काफी गिरावट आई है. एक समय वह भी था जब अमेरिका जंग के दौरान पाकिस्तान को हथियार और अन्य चीजें मुहैया कराता था, उसका समर्थन करता था, लेकिन आज मामला पूरी तरह बदल गया है. आज भारत और अमेरिका के रिश्ते बेहतर होते जा रहे हैं, जबकि पाकिस्तान को अमेरिका ने तवज्जो देना ही कम कर दिया है. जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद भारत और पाकिस्तान के प्रति अमेरिका के रुख ने भी सब जाहिर कर दिया था.

यह भी पढ़िए   दरभंगा में तीन नशेड़ी गिरफ्तार

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News