इलाहाबाद हाईकोर्ट प्रयागराज हाईकोर्ट नाम रखने की याचिका खारिज

इलाहाबाद. इलाहाबाद हाईकोर्ट’ का नाम बदल कर प्रयागराज (Prayagraj)हाईकोर्ट’ रखने की मांग वाली एक जनहित याचिका को खारिज कर दिया गया है. याचिका को खारिज करते हुए हाईकोर्ट की लखनऊ (Lucknow) बेंच ने टिप्पणी की कि उक्त जनहित याचिका मात्र पब्लिसिटी के लिए दाखिल की गई है. यह आदेश न्यायमूर्ति पंकज कुमार जायसवाल और न्यायमूर्ति डीके सिंह ने स्थानीय अधिवक्ता अशोक पांडेय की याचिका पर दिया.

  मंदिर की शरण में पहुंचा कोरोना का इलाज ढूंढ रही ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी

याचिका में कहा गया था कि 16 अक्टूबर 2018 को राज्य सरकार (Government) ने इलाहाबाद जिले का नाम बदलकर ‘प्रयागराज’ कर दिया है, इस अनुसार ‘इलाहाबाद हाईकोर्ट’ का नाम भी बदला जाना चाहिए. हालांकि न्यायालय ने अपने आदेश में कहा कि संवैधानिक व्यवस्था के तहत हाईकोर्ट का नाम विधायिका के अधिकार क्षेत्र का विषय है. न्यायालय ने यह भी टिप्पणी की कि हम याची पर हर्जाना लगाने से खुद को रोक रहे हैं क्योंकि वह इस न्यायालय का एक कार्यरत अधिवक्ता है.

  महानंदा एक्सप्रेस में छात्रा से छेड़खानी, आरोपी के पास मिले 58 लाख रुपये, गिरफ्तार

Check Also

कमल नाथ ने की गद्दारी: ज्योतिरादित्य सिंधिया

नई दिल्‍ली . मध्य प्रदेश के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि भारतीय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *