Monday , 23 September 2019
Breaking News

इस वर्ष 3.5 गीगावाट बढ़ेगी पवन ऊर्जा उत्पादन क्षमता

नई दिल्ली. इस वर्ष देश में पवन ऊर्जा उत्पादन क्षमता 3 से 3.5 गीगावाट बढ़ने की उम्मीद है. अब तक पवन ऊर्जा के जो प्रोजेक्ट अवार्ड किए गए हैं, उनके आधार पर रेटिंग एजेंसी इक्रा ने यह आकलन किया है. 2017-18 में पवन बिजली उत्पादन क्षमता 1.7 गीगावाट बढ़ी थी.

मिनिस्ट्री ऑफ न्यू एंड रिन्यूएबल एनर्जी (एमएनआरई) ने गुजरात, महाराष्ट्र और तमिलनाडु की बिजली वितरण कंपनियों के साथ बीते 15 महीनों में 7.6 गीगावाट पवन ऊर्जा उत्पादन क्षमता स्थापित करने को मंजूरी दी है. मंत्रालय ने इस वर्ष और अगले वर्ष 10-10 गीगावाट की क्षमता को मंजूरी देने का लक्ष्य रखा है.

यह भी पढ़िए   पेट्रोल व डीजल की कीमतों में इजाफा

इक्रा की रिपोर्ट में बिजली उत्पादन करने वालों के लिए दो प्रमुख चुनौतियां होंगी. जिस रेट पर उन्होंने बिड हासिल की है, उस रेट पर लंबे समय तक सप्लाई करना मुश्किल होगा. दूसरी दिक्कत ट्रांसमिशन नेटवर्क में पहुंच की होगी. डेवलपर को प्रोजेक्ट अवार्ड किए जाने के 18 महीने में उत्पादन शुरू करना है, जबकि ट्रांसमिशन इन्फ्रास्ट्रक्चर तैयार होने में दो से तीन साल लग सकते हैं.

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News

Inline

Click & Download Udaipur Kiran App to read Latest Hindi News