‘ई-सखी‘ से मिलेगा डिजीटल साक्षरता को बढ़ावा

उदयपुर (Udaipur). राज्य सरकार (State government) द्वारा जनकल्याणकारी योजनाओं के इलेक्ट्रोनिक सेवा प्रदायगी के प्रयास से अधिक से अधिक लोगों को जोड़ने के लिए डिजीटल साक्षरता को बढावा देने के उद्देश्य से ‘‘ई-सखी योजना‘‘ आरम्भ की गई है.

आईटी उपनिदेशक शीतल अग्रवाल ने बताया कि योजना के अन्तर्गत 20-35 वर्ष एवं कम से कम 12वीं कक्षा तक पढ़ी महिला जिसके पास मोबाइल (स्मार्ट फोन) व ईमेल आईडी हो का ई-सखी के रूप में चयन किया जाएगा. इन्हें समुचित दक्षता से कार्य करने पर ई-सखी होने का प्रमाण-पत्र दिया जाएगा, एव ंइन्हे सार्वजनिक कार्यक्रमों में सम्मानित किया जाएगा. जिले में प्रत्येक गांव से 4 से 5 तथा शहरी क्षेत्र के प्रत्येक वार्ड से 10 ‘‘ई-सखियों‘‘ का चयन किया जायेगा. यह अभियान दिसम्बर, 2018 तक चलेगा. इस योजना का क्रियान्वयन आरकेसीएल के माध्यम से किया जाएगा.

  दिवाली से पहले भारतीय बाजार में 5जी मोबाइल लेकर आएगी लावा

योजना के सफल क्रियान्वयन हेतु जिले में मास्टर ट्रेनर नियुक्त किये गये हैं एवं इनको प्रशिक्षण राज्य स्तर पर दिया गया है. मास्टर ट्रेनर द्वारा आईटी ज्ञान केन्द्रों के संचालकों को जिला स्तर पर 5 व 6 जून एवं 12 व 13 जून को प्रशिक्षण दिया जाएगा. इच्छुक ई-सखियों को ई-साक्षरता के इस अभियान को आगे बढ़ाने के लिए प्रशिक्षण अधिसूचित आईटी ज्ञान केन्द्रों पर सूचना प्रोद्यौगिकी और संचार विभाग एवं सांख्यिकी विभाग के संयुक्त तत्वावधान में दिया जायेगा. प्रशिक्षण के पश्चात ई-सखी अपने गांव-शहरी क्षेत्र के कम से कम 100 लोेगों को विभिन्न प्रकार की सेवाएं डिजिटल प्रक्रिया से लेने के लिए प्रशिक्षित करेगी. ई-सखी द्वारा समय-समय पर सरकार द्वारा आई-टी के क्षेत्र में की जाने वाली पहल तथा अन्य नवाचारों में भी लोगों को प्रतिभागिता के लिए प्रोत्साहित किया जाएगा.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *