उन्नाव रेप मर्डर मामले के दोषी कुलदीप सिंह सेंगर की विधानसभा सदस्यता समाप्त, अधिसूचना जारी


लखनऊ . यूपी उन्नाव रेप मर्डर मामले के दोषी कुलदीप सिंह सेंगर की विधानसभा सदस्यता समाप्त कर दी गई है. विधानसभा सचिवालय ने प्रमुख सचिव प्रदीप कुमार दुबे की ओर से जारी की गई अधिसूचना में सेंगर की सदस्यता उस दिन से ही समाप्त की गई है, जिस दिन उसे सजा सुनाई गई थी. अधिसूचना के मुताबिक 20 दिसंबर 2019 से उन्नाव जिले की बांगरमऊ विधानसभा सीट को रिक्त घोषित किया गया है.

  दिल्ली में 106 साल के बुजुर्ग ने कोरोना को दी मात

सेंगर को 1 अगस्त 2019 को भारतीय जनता पार्टी ने निष्कासित कर दिया था. ज्ञात हो कि कुलदीप सिंह सेंगर 2017 उन्नाव बलात्कार मामले के दोषी हैं और मामले में आजीवन कारावास की सजा काट रहे हैं. 4 जून 2017 को रेप पीड़िता ने तत्कालीन भाजपा विधायक सेंगर पर रेप का आरोप लगाया था. गौरतलब है कि कुलदीप सेंगर को धारा 120 बी (आपराधिक साजिश), 363 (अपहरण), 366 (शादी के लिए मजबूर करने के लिए एक महिला का अपहरण या उत्पीड़न), 376 (बलात्कार और अन्य संबंधित धाराओं) और पॉस्को के अंतर्गत दोषी ठहराया गया था. सूत्रों के मुताबिक, बांगरमऊ विधानसभा सीट पर उपचुनाव के लिए जल्द ही अधिसूचना जारी की जाएगी.

  मुख्यमंत्री पहुंचे राष्ट्रपति से मुलाकात करने

Check Also

गलवान घाटी में चीनी जवान पीछे हटे

नई दिल्‍ली . चीन ने गलवान घाटी में अप्रैल 2020 के यथास्थिति को मानते हुए …