ऑक्सीजन नहीं मिलने का विरोध, किया चक्काजाम, उद्योगपति और मजदूर उतरे सडक पर

भोपाल (Bhopal). पिछले 15 दिन से ऑक्सीजन की सप्लाई न होने से नाराज गोविंदपुरा औद्योगिक क्षेत्र में उद्योगपति और मजदूर सड़क पर उतर आए हैं. उन्होंने कल गोविंदपुरा के मुख्य गेट के सामने रायसेन रोड पर चक्काजाम कर दिया. इससे दोनों ओर वाहनों की लंबी कतार लग गई. ऑक्सीजन न मिलने की स्थिति में यहां के फेब्रिकेशन और फार्मा के आधे से अधिक उद्योगों में काम ठप पड़ा हुआ है.

इसे लेकर उद्योगपतियों की मंत्री ओमप्रकाश सकलेचा व विश्वास सारंग से गुहार भी बेनतीजा ही निकली. उद्योगपतियों का कहना है कि जरूरत की 10 फीसद ऑक्सीजन ही मिल जाए तो काम शुरू कर दिया जाए, लेकिन यह भी उपलब्ध नहीं हो पाने से उनका सब्र का बांध टूट गया और वे सड़क पर उतर आए. दोपहर 12.30 बजे वे मजदूरों के साथ चक्काजाम करने लगे. इस दौरान किसी को निकलने नहीं दिया जा रहा है. बता दें कि गोविंदपुरा में करीब 1100 लघु उद्योग संचालित हैं. उत्पादन प्रभावित होने से प्रतिदिन करीब 100 करोड़ रुपये का नुकसान हो रहा है.

  राहुल गांधी ने उठाया प्रवासी मजदूरों का मसला

उद्योगपतियों का कहना है कि वर्तमान में प्रदेश में मेडिकल इमरजेंसी (Emergency) है और उसके लिए ऑक्सीजन जरूरी भी है, लेकिन कुछ औद्योगिक इकाईयां ऐसी हैं, जो ऑक्सीजन के बिना नहीं चल सकती. इसलिए 10 फीसद गैस ही उपलब्ध करा दी जाए तो इकाईयों में काम चलता रहेगा. चक्काजाम कर रहे उद्योगपति और मजदूरों ने जिला प्रशासन के विरोध में नारे लगाए. दोपहर 1 बजे पुलिस (Police) पहुंची, लेकिन प्रदर्शन जारी रहा. उद्योगपति अमरजीत सिंह ने बताया कि ऑक्सीजन के लिए मांग की जा रही है. अभी सांकेतिक प्रदर्शन किया है. दो दिन बाद बड़े स्तर पर प्रदर्शन किया जाएगा. उनका कहना था कि समस्या का तुरंत हल किया जाए. ताकि उद्योग चलाए जा सके. पुलिस (Police) निरीक्षक आलोक श्रीवास्तव मौके पर पहुंचे और चक्काजाम कर रहे लोगों को समझाइश देकर हटाया.

  बिहार के चुनावी संग्राम में उतरे नरेंद्र मोदी

Check Also

कमल नाथ ने की गद्दारी: ज्योतिरादित्य सिंधिया

नई दिल्‍ली . मध्य प्रदेश के दिग्गज नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा है कि भारतीय …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *