कंगना ने मुंबई को बताया प्यारा शहर तो उर्मिला ने कहा- बहन सिर पर चोट लगी है क्या !

मुंबई (Mumbai) . विवादित बयानों और महाराष्ट्र (Maharashtra) सरकार से लंबे विवाद के बाद कंगना रनौत मुंबई (Mumbai) जाकर मुंबा देवी और सिद्धिविनायक मंदिर के दर्शन किए. इस मौके पर कंगना ने कहा कि मैं यहां आकर सुरक्षित और प्यारा महसूस करती हूं. अब कंगना के इस बयान पर अ‎भिनेत्री और शिवसेना नेता उर्मिला मातोंडकर ने तीखा हमला किया. दरअसल, कंगना ने मंदिर दर्शन की कुछ तस्वीरें पोस्ट कर लिखा, अपने शहर मुंबई (Mumbai) के लिए खड़े होने पर आज मुझे जिस तरह का सम्मान मिला और स्वागत किया गया, उससे मैं अभिभूत हूं.

  मैंने शादी के बाद से कोई छुट्टी नहीं ली : गौहर खान

मैं मुंबा देवी गई और सिद्धिविनायक जी का आशीर्वाद लिया. मैं बेहद सुरक्षित और प्यार से भरी महसूस कर रही हूं. जय हिंद जय महाराष्ट्र. कंगना के इस ट्वीट के बाद उर्मिला ने ट्वीट कर चुटकी ली और लिखा- मेरे प्यारे शहर मुंबई (Mumbai) के लिए खड़ी होने के लिए? इसके बाद उन्होंने मराठी में लिखा-‘बहन क्या तुम हाल ही में सिर के बल गिरी थीं? कुछ महीने पहले कंगना ने ट्वीट कर लिखा था कि उन्हें माफियाओं से ज्यादा मुंबई (Mumbai) पुलिस (Police) से डर लगता है. इसके बाद शिवसेना के सीनियर नेता संजय राउत ने ट्वीट कर लिखा था कि अगर उन्हें मुंबई (Mumbai) में डर लगता है तो यहां वापस नहीं आना चाहिए. जिसपर अब कंगना की ओर से जवाब आया था. ये मुंबई (Mumbai) पाकिस्तान अधिकृत कश्मीर की तरह क्यों लग रहा है? कंगना के इस बयान पर काफी हंगामा हुआ था.

  पीयूष गोयल ने नई दिल्ली रेलवे स्टेशन के नए लुक का खुलासा किया

गौरतलब है ‎कि इससे कंगना और उर्मिला के बीच जुबानी जंग ट्विटर पर हो चुकी है. मुंबई (Mumbai) की तुलना पीओके से करने पर भी उर्मिला भड़क उठी थीं और उन्होंने कंगना को खरी खोटी सुनाई थी. इसके बाद से दोनों के बीच तकरार जारी है. हाल ही में उर्मिला ने शिवसेना में शामिल होने के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस की थी और इस दौरान कंगना से जुड़े सवाल पर कहा था- अब उन्हें इतना महत्व देने की जरूरत नहीं है. हर किसी को निंदा करने का आधिकार और आजादी है, वो ऐसा करने के लिए आजाद हैं. इसके बाद उर्मिला ने ट्वीट कर लिखा था- तुमको मिर्ची लगी तो मैं क्या करूं. मुझे यह गाना पसंद है. आपको क्या लगता है.

  केवल आत्मनिर्भर देश ही श्रेष्ठ देश बन सकता है: मंत्री डॉ.हर्षवर्धन

 

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *