कसी हुई बेल्ट बांधने से हो सकती है नपुंसकता


नई दिल्ली (New Delhi) . कमर पर बेल्ट बांधना कई बार फैशन होता है तो कई बार जरूरत भी होती है. दफ्तर में काम करने वाले या कॉलेज में पढ़ने वाले लोग तरह-तरह के बेल्ट लेते हैं. लेकिन क्या आप जानते हैं कि कमर पर कसी बेल्ट आपको कई बीमारियां दे रही है. बेल्ट को बहुत कसकर बांधना बीमारियों को बुलाने जैसा है. बात दे कि लंबे समय तक बेल्ट बांधे रहने से सबसे पहले आपके डाइजेशन पर असर दिखता है.

  मुंबई क्षेत्र में फरवरी-मार्च के दौरान आवासीय इकाइयों की बुकिंग 78 प्रतिशत गिरी

बेल्ट का पेट पर कसा होना नर्व्स पर असर डालता है, जिनका ताल्लुक पाचन से है. यहीं नहीं पुरुषों के लिए टाइट बेल्ट और खतरनाक है. इससे पेल्विक एरिया से गुजरने वाली नसों पर दबाव पड़ता है और इसका असर स्पर्म काउंट पर दिखता है. पुरुषों में फर्टिलिटी की संभावना कम हो जाती है. कमर या उससे नीचे बेल्ट बांधना शरीर के निचले हिस्से के जोड़ों पर असर डालता है. इससे घुटनों में दर्द और बार-बार नसों का खिंचना जैसी समस्याएं सामने आने लगती हैं. जो लोग रोज़ लंबे वक्त तक कमर पर टाइट बेल्ट बांधते या चुस्त कपड़े पहनते हैं, उन्हें कमर में दर्द रहने लगता है. इसका असर पैरों में सूजन के रूप में भी दिखता है. कमर में कसी हुई बेल्ट से उस हिस्से में स्थायी निशान बन जाता है.

  एयरटेल ने कम आय वाले ग्राहकों के लिए उपायों की घोषणा की

इसतरह अगर आप नए फैशन के कपड़े पहनना चाहें तो निशान नजर आता है. पेट की मांसपेशियां इससे बुरी तरह से प्रभावित होती हैं और उनके काम का तरीका अलग हो जाता है, जिसका असर पेट की गड़बड़ी, एसिडिटी के रूप में सामने आता है. कसी हुई बेल्ट ही नहीं, चुस्त कपड़ों से भी यही नुकसान होता है. अगर आप लगातार कसे हुए कपड़े पहन रहे हों तो इसका असर उसके स्वास्थ्य पर दिखता है.

  कोरोना से एक और हॉलीवुड स्टार की मौत, नहीं रहे स्टार वॉर्स फेम एंड्रियू जैक

Check Also

पैट कमिंस को अभी भी आईपीएल 2020 के होने की उम्मीद

सिडनी . इंडियन प्रीमयर लीग (आईपीएल) के सबसे महंगे खिलाड़ियों में से एक ऑस्ट्रेलिया के …