कोरोना की बात छुपाने पर होगी एफआइआर: मुख्यमंत्री

भोपाल (Bhopal) . कोरोना संक्रमण के फैलाव को देखते हुए प्रदेश के मुख्यमंत्री (Chief Minister) शिवराज सिंह चौहान ने कहा ‎कि अब इंदौर (Indore), भोपाल (Bhopal) और उज्जैन को पूरी तरह सील कर दिया जाए. उन जिलों में भी पूरी तरह लॉकडाउन (Lockdown) किया जाए, जहां संक्रमित व्यक्ति मिले हैं. इन क्षेत्रों में कोई भी व्यक्ति न तो अंदर जा सकेगा और न ही बाहर.कोरोना संक्रमण से प्रभावित व्यक्ति यदि जानकारी छुपाता है तो उसके खिलाफ एफआइआर की जाएगी और इलाज के बाद दंडात्मक कार्रवाई भी होगी. जो भी व्यक्ति कोरोना नियंत्रण के काम में लगे कर्मचारियों से बदसलूकी करता है, उसके खिलाफ भी सख्त कार्रवाई की जाए. जिला प्रशासन ही आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति सुनिश्चित कराए. यह निर्देश मुख्यमंत्री (Chief Minister) चौहान ने कल मंत्रालय में कोरोना (Corona virus) की स्थिति और व्यवस्थाओं की समीक्षा के दौरान दिए.

  डॉ. सतीश शर्मा की खोज : उदयपुर में पहली बाद दिखा दुर्लभ प्रजाति का पहाड़ी बबूल

मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने वरिष्ठ अधिकारियों से कहा कि जिस तरह से इंदौर (Indore) और भोपाल (Bhopal) में कोरोना के पॉजिटिव मामले लगातार सामने आ रहे हैं, उसे देखते हुए इन शहरों को पूरी तरह सील कर दिया जाए. जिन जिलों में एक-दो प्रकरण सामने आ रहे हैं, वहां भी विशेष एहतियात बरती जाए.
बैठक में बताया गया कि कोरोना (Corona virus) से 14 जिले प्रभावित हुए हैं. अधिकारियों ने यह भी बताया कि प्रदेश में अभी कोरोना से मृत्युदर सात से साढ़े प्रतिशत तक है. मुख्य सचिव इकबाल सिंह बैंस ने बताया कि प्रतिदिन अब जांच क्षमता 788 हो गई है. दस अप्रैल तक एक हजार तक पहुंच जाएगी. जांच के लिए सात लैब हैं. कोरोना (Corona virus) की त्वरित जांच के लिए रैपिड टेस्टिंग किट्स की व्यवस्था की जा रही है. मुख्यमंत्री (Chief Minister) ने कहा कि कोरोना के मरीजों को बेहतर से बेहतर उपचार दिया जाए, जिससे मृत्यु दर को कम से कम किया जा सके. जांच क्षमता बढ़ाई जाए.

  कोरोना महामारी में सब्जी और फूल कारोबार चौपट

Check Also

चीन ने भारत से अपने नागरिकों को वापस बुलाया

नई दिल्‍ली . चीन ने छात्रों, पर्यटकों और उद्योगपतियों सहित सभी नागरिकों को भारत से …