कोरोना लॉकडाउन में रेलवे ने लिया बड़ा फैसला

जबलपुर. कोरोना (Corona virus) लॉकडान की वजह से ट्रेन सेवा फिलहाल बंद है, मगर 15 अप्रैल से रेल परिचालन शुरू होने की संभावना के मद्देनजर टिकट बुक कराने वालों की भी भीड़ बढ़ गई है. लॉकडाउन (Lockdown) खत्म होने का इंतजार कर रहे अभी से ही रेल यात्री एडवांस टिकट बुकिंग कराने लगे हैं. आलम यह है कि कई प्रमुख ट्रेनों में 16 से 20 अप्रैल की स्लीपर और एसी की सीटे फुल होने के कारण वेटिंग लिस्ट की स्थिति पहुंच गई है. ये स्थिति तब है जब रेलवे (Railway)की ओर से सीनियर सिटीजन यानी वरिष्ठ नागरिकों को किराये में दी जाने वाली छूट नहीं दी जा रही है.

  इतिहास में पहली बार नहीं हुई ताजमहल में नमाज अदा

सरकार कोरोना (Corona virus) के प्रकोप को देखते हुए लॉकडाउन (Lockdown) खत्म होने के बाद भी किसी तरह की भीड़ नहीं चाह रही है. सीनियर सिटीजन को टिकट बुकिंग में रियायत नहीं देने के पीछे सरकार (Government) यही चाहती है कि अभी लोग अनावश्यक यात्रा करने से बचें. गौरतलब है कि अब तक महिलाओं को 50 तथा पुरुषों को 40 फीसदी छूट सीनियर सिटीजन के नाते दी जाती थी और टिकट बुक करने के वक्त इंडिया वाले क्लिप के बाद आता था यह विकल्प जिसे आप नीचे तस्वीर में देख सकते हैं.

  चिंतन-मनन / धर्म का आदर

लॉकडाउन (Lockdown) के चलते देशभर के सभी रेलवे (Railway)टिकट काउंटर बंद हैं, इसलिए एडवांस टिकट की बुकिंग सिर्फ आईआरसीटीसी की वेबसाइट पर हो रही है. इसमें वरिष्ठ नागरिकों को रेल किराये में रियायत देने वाला कॉलम ही गायब है. यानी वरिष्ठ नागरिकों को रेल किराये में छूट नहीं दी जा रही है. बता दें कि रेलवे (Railway)ने कोरोना (Corona virus) के फैलाव को कम करने के मकसद से 20 मार्च आधी रात से विद्यार्थी, दिव्यांगजनों, मरीजों को छोड़कर विभिन्न कुल 53 श्रेणियों के तहत दी जाने वाल रियायात समाप्त कर दी थी. इसका मकसद कम से कम संख्या में लोग ट्रेनों से सफर करें. विशेषकर वरिष्ठ नगारिकों को कोरोना से संक्रमित होने का अधिक खतरा रहता है.

  एयरपोर्ट पर आने वाले व्यक्तियों को कोविड-19 के निर्देशों की पालना कराने के लिए 15 अधिकारी-कार्मिक नियुक्त

Check Also

घर पर बनी पावभाजी का मजा ले रहीं तृषा

दक्षिण भारतीय फिल्मों की अभिनेत्री तृषा कृष्णन ने लॉकडाउन (Lockdown) के दौरान घर पर तैयार …