कोरोना संकट के बावजूद अमेरिका की ट्रिपल-ए रेटिंग बरकरार


वाशिंगटन . रेटिंग संस्था फिच ने कोरोना (Corona virus) वैश्विक महामारी के चलते अमेरिका में बढ़ती बेरोजगारी और सिर पर मंडराते मंदी के खतरे के बावजूद देश की वित्तीय साख (क्रेडिट रेटिंग) को ट्रिपल ‘ए’ के स्तर पर बरकरार रखा है. फिच ने कहा ‎कि अमेरिका की वित्तीय साख का यह स्तर उसकी अर्थव्यवस्था की बुनियादी मजबूती के चलते है.

  70 पैसे ट्रटकर रुपया 76.34 प्रति डॉल्रर पर

अमेरिका की व्यवस्था बढ़ी, प्रति व्यक्ति आय ऊंची और व्यावसायकि वातावरण गतिशील है. यह रेटिंग ऐसे समय में जारी की गई है जब श्रम मंत्रालय ने 21 मार्च को समाप्त हुए सप्ताह में 33 लाख लोगों के बेरोजगार होने की जानकारी दी. फिच ने अनुमान जताया है कि अमेरिका की जीडीपी इस साल तीन प्रतिशत तक घट जाएगी जो 2009 के वैश्विक आर्थिक संकट से भी ज्यादा खराब है. हालांकि यह भी अनुमान जताया कि अगर वायरस के प्रसार को रोक लिया जाता है तो यह जीडीपी 2021 में सुधर भी सकती है.

  मास्क पर हफ्ते भर तक जिंदा रह सकता है कोरोना वायरस

Check Also

दुनिया में पार हुआ 88,000 मौतों का आंकड़ा

लंदन. पूरी दुनिया में कोरोना (Corona virus) से मरने वालों की संख्या बुधवार (Wednesday) को …