जीएसटीएन ने जीएसटी करदाताओं के लिए प्रणाली को बेहतर बनाया


नई दिल्ली (New Delhi). माल एवं सेवाकर नेटवर्क (जीएसटीएन) ने कहा कि उसने नेटवर्क में ऐसा प्रावधान किया है. जिसके बाद जीएसटी करदाता को उनके इनपुट टैक्स क्रेडिट (आईटीसी) के बारे में जानकारी मिलेगी और वह जीएसटीआर-9 को अधिक सुविधा के साथ भर सकते है. अब तक जीएसटी प्रणाली में आईटीसी की गणना आपूर्तिकर्ता की बिक्री रिटर्न जीएसटीआर-1 के आधार पर होती रही है,लेकिन बिल के स्तर पर इसकी जानकारी उपलब्ध नहीं होती थी.इसके बाद करदाता आईटीसी की गणना को लेकर सवाल उठाते रहे हैं. जीएसटी के समूचे कप्यूटर नेटवर्क को चलाने वाली कंपनी जीएसटीएन ने कहा है कि आपूर्तिकर्ता द्वारा दर्ज प्रत्येक बीजक अथवा बिल को दिखाया जायेगा और प्रत्येक बिल के सामने उसकी गणना को दिखाने की प्रणाली को नेटवर्क में विकसित कर दिया गया है.

  आइटम कोई असम्मानित शब्द नहीं : कमल नाथ

जीएसटीएन ने कहा है,जीएसटीएन ने आज नेटवर्क प्रणाली में एक महत्वपूर्ण व्यवस्था को चालू किया है जिसके जरिये जीएसटी करदाता को उनकी वार्षिक रिटर्न में आने वाले आईटीसी की सही स्थिति के बारे में पता चल जायेगा और इसकी मदद से वह जीएसटीआर-9 को अधिक सुविधा के साथ भर सकते हैं. वक्तव्य में कहा गया है कि इस कार्य के लिए जीएसटी पोर्टल के जीएसटीआर-9 डैशबोर्ड में एक नई टैब ‘डानलोड अबेल-8ए डिटेल’ की शुरुआत की गई है. यह ब्यौरा वित्त वर्ष 2018-19 से उपलब्ध होगा.

  सात महीने बाद अहमदाबाद-मुंबई के बीच दौड़ी तेजस एक्सप्रेस

Check Also

आयोग ने कमल नाथ की टिप्पणी पर रिपोर्ट मांगी

भोपाल . चुनाव आयोग ने पूर्व मुख्यमंत्री कमल नाथ की इमरती देवी पर गई टिप्पणी …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *