ट्रंप ने कहा- इजराइल की आपत्ति के बाद भी यूएई को एफ-35 फाइटर प्लेन बेचूंगा


वाशिंगटन. अमेरिका के राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रम्प ने कहा है कि उन्हें यूएई को एडवांस एफ-35 फाइटर प्लेन बेचने में कोई परेशानी नहीं है. उन्होंने कहा कि मित्र इजराइल के आपत्ति के बाद भी वह ऐसा कर सकते हैं. ट्रम्प मंगलवार (Tuesday) को यूएई और इजराइल के बीच शांति समझौते पर भी हस्ताक्षर करेंगे और एफ-35 को बेचने की प्रक्रिया को अमेरिका में नौकरियों के लिए भी शानदार बताया.

छोटे और धनी देश यूएई एक क्षेत्रीय सैन्य शक्ति बनने की महत्वाकांक्षा के लिए इन स्टील्थ फाइटर जेट्स पर नजर गड़ाए हुए है. इस क्षेत्र में इजराइल ही एकमात्र ऐसा देश है जिसके पास अमेरिकी हथियार है. इजराइल ने अपने अरब पड़ौसी देशों के खिलाफ भारी तकनीकी बढ़त बरकरार रखने पर जोर दिया है. विश्लेषकों का कहना है कि व्हाइट हाउस के कहने पर इजराइल के साथ शांति समझौते के लिए यूएई ने एफ-35 विमानों को सौदे के रूप में उपयोग किया है. इस समझौते में बहरीन भी शामिल है. डोनाल्ड ट्रम्प की मध्यस्तता के बाद इन दोनों देशों ने इजराइल के साथ शांति समझौते के लिए सहमति जताई थी.

Check Also

मंदिर की शरण में पहुंचा कोरोना का इलाज ढूंढ रही ऑक्सफोर्ड यूनिवर्सिटी

नई दिल्ली (New Delhi). ऑक्सफोर्ड विश्वविद्यालय ने कोरोना के इलाज से जुड़े एक ट्रायल प्रिंसिपल …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *