ताइवान ने अलीबाबा से कहा, 6 माह में ई-वाणिज्य कंपनी में अपनी हिस्सेदारी बेचे

FILE PHOTO: The logo of Alibaba Group is seen at the company’s headquarters in Hangzhou, Zhejiang province, China July 20, 2018. REUTERS/Aly Song

– उपयोगकर्ताओं की व्यक्तिगत जानकारी चीन को हस्तातंरित किए जाने की आशंका

ताइपे. चीनी कंपनियों पर अमेरिका और भारत समेत कई देशों में सुरक्षा संबंधी चिंताओं के कारण लगाए जा रहे प्रतिबंध के बीच ताइवान ने भी चीन के अलीबाबा समूह से स्थानीय ई-वाणिज्य इकाई ताओबाओ ताइवान में अपनी हिस्सेदारी बेचने को कहा है. ताइवान को आशंका है कि उपयोगकर्ताओं की व्यक्तिगत जानकारी चीन को हस्तातंरित की जा सकती है. इसके पूर्व ताइवान चीन की प्रौद्योगिकी कंपनी हुवावेई टेक्नोलॉजीज लि. के दूरसंचार उपकरणों के उपयोग पर पाबंदी लगा चुका है.

  24 साल बाद न्यूजीलैंड में बहुमत वाली सरकार, अर्नर्ड फिर प्रधानमंत्री

ताइवान सुरक्षा नजरिये से चीनी निवेश पर नजर रखता है और उन चीजों से बचता है, जिससे उसके मजबूत पड़ोसी देश की स्थिति सुरक्षा दृष्टिकोण से और मजबूत हो. आर्थिक मामलों के मंत्रालय ने कहा कि ताओबाओ ताइवान का परिचालन ब्रिटिश कंपनी कर रही है, लेकिन अली बाबा समूह के पास कंपनी में हिस्सेदारी है, जिससे उसे उपभोक्ताओं से जुड़े मंच के नियंत्रण की अनुमति है. यह ताइवान के नियम का उल्लंघन है. अलीबाबा समूह का मुख्यालय शंघाई के दक्षिण पश्चिम में स्थित हानझोऊ में है. यह कुल बिक्री मात्रा के हिसाब से दुनिया की सबसे बड़ी ई-वाणिज्य कंपनी है. मत्रालय के अनुसार ताओबाओ ताइवान के साथ हुए समझौते के तहत अलीबाबा समूह के चीन स्थित सर्वर पर सदस्यों के लेन-देन के आंकड़े जाते हैं.

  डेविड बीसली की अपील, दुनिया के अरबपति लाखों जीवन बचाने के लिए कुछ अरब डॉलर दान दें

उसने कहा कि कि इससे सुरक्षा को खतरा हो सकता है. अलीबाबा के पास ब्रिटिश क्लॉडाग वेंचर इनवेस्टमेंट लि. में 29 प्रतिशत हिस्सेदारी है जो कानूनी सीमा 30 प्रतिशत से कम है. मंत्रालय के अनुसार लेकिन शेयरधारकों का जो ढांचा है, उसमें अली बाबा के पास वीटो निर्णय के जरिये ब्रिटिश उद्यम पर नियंत्रण रखने की अनुमति मिल जाती है. आदेश में अलीबाबा को छह महीने के भीतर अपनी हिस्सेदारी बेचने को कहा गया है. इस बारे में फिलहाल अली बाबा समूह की तरफ से कोई टिप्पणी नहीं मिल पायी है.

  रेहड़ी-पटरी और छोटी-मोटी दुकान वालों को लोन दे रहा यहां बैंक

Check Also

डेविड बीसली की अपील, दुनिया के अरबपति लाखों जीवन बचाने के लिए कुछ अरब डॉलर दान दें

संयुक्त राष्ट्र. नोबेल शांति पुरस्कार से सम्मानित एजेंसी विश्व खाद्य कार्यक्रम (डब्ल्यूएफपी) के प्रमुख डेविड …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *