पैंगोंग झील के दक्षिणी किनारे चीन के हजारों सैनिक

अरुणाचल प्रदेश में भी दिखी हलचल

नई दिल्‍ली . चीन ने वास्तविक नियंत्रण रेखा (LAC) के पास अपने सैनिकों की तैनाती बढ़ा दी है. एएलसी के पास चीनी सेना PLA के 52,000 सैनिक तैनात हैं जिनमें से 10 हजार सिर्फ पैंगोग झील के दक्षिणी किनारे जमे हैं. पैंगोंग झील के साथ ही अरुणाचल प्रदेश में एएलसी के पास चीनी सेना की सरगर्मी दिखी है.

  नेशनल हाईवे-8 पर जनजाति अभ्यर्थियों का धरना समाप्त, संयुक्त बैठक में सहमति के बाद हाईवे पर आवागमन हुआ सामान्य

pangong-tso

मीडिया की खबरों के अनुसार सरकारी सूत्रों ने बताया कि अरुणाचल प्रदेश में एलएसी के पास दो इलाके में चीनी सैनिकों की गतिविधियां दिखाई दी हैं. पीएएलए ने अरुणाचल प्रदेश के असाफिला और फिशटेल सेक्टर 2 में हलचल देखने को मिली है. यह इलाका भारतीय भूभाग से 20 किमी दूर है.

पिछले दिनों अरुणाचल प्रदेश के 5 युवकों के लापता होने के बाद चीन ने भारत के इस प्रदेश को अपना हिस्सा बताया था. इसके बाद से ही भारतीय सेना ने अंजॉ जिले में अतिरिक्त जवानों की फोर्स तैनात की थी.

  देश के कई राज्‍यों में किसानों ने किए प्रदर्शन

पैंगोग झील के दक्षिणी किनारे पर 29-30 अगस्त की रात चीन की तरफ घुसपैठ की कोशिश को भारत ने विफल कर दिया था. इसके बाद से ही क्षेत्र में दोनों ओर की सेनाएं तैनात हैं. भारतीय सुरक्षाबलों के हालिया विस्तृत आकलन में यह जानकारी सामने आई है जिसे इकनॉमिक टाइम्स अखबार ने साझा किया है. रिपोर्ट में कहा गया है कि चीन ने मिरर डिप्लॉयमेंट किया है यानी भारत की देखादेखी चीन ने भी इलाके में अपने सैनिकों की संख्या बढ़ा दी है.

  सरेराह सड़क पर एक छात्रा की हत्या कर दी पहले छात्रा को चाकू मारा गया फिर तीन गोली मारी

Check Also

प्रो. रेणु जैन देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति

आप यहां हैं :Home » प्रो. रेणु जैन देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति भोपाल . …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *