पैदल घर लौट रहे मजदूरों को करा रहे भोजन


दतिया . कोरोना (Corona virus) के संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए पूरे देश में लॉक डाउन है. फैक्ट्रियां बंद हो गई हैं. पूरे देश में मजदूरों को काम मिलना बंद हो गया है. मजदूर वापस लौटकर घर जा रहे हैं लेकिन वाहन सुविधा बंद होने के कारण हजारों मजदूरों को पैदल ही कोसों दूर की यात्रा करना पड़ रही है. ऐसे लोगों के लिए शहर के समाज सेवी आगे आए और हाइवे पर पहुंचकर मजदूरों को रोककर उन्हें भोजन-पानी की व्यवस्था करा रहे हैं. कलेक्टर रोहित सिंह ने शहर के समाज सेवियों से गरीब, मजदूरों को भोजन पानी की व्यवस्था करने का आव्हान किया था.

  डॉमिनार 400 का बीएस6 कम्प्लायंट मॉडल लॉन्च, मोटरसाइकल 1749 रुपये बढ़ी कीमत

जिसके चलते पूज्य माता साहब आश्रम सेवा समिति के सदस्य हाइवे पुल पर पहुंचे. यहां सबसे पहले आगरा (Agra) से कटनी जा रहे 125 लोगों को पुल पर ही रोक लिया. यहां पुल पर बैठाकर सोशल डिस्टेंस का ध्यान रखते हुए रोटी, सब्जी पेट भर खिलाई. इसके बाद मजदूर कटनी के लिए रवाना हो गए. इसके बाद टीकमगढ़ जिले से पैदल ग्वालियर जा रहे 80 मजदूरों के जत्थे को रोककर भोजन कराया. समिति के सदस्यों ने बताया कि अब उनके द्वारा नियमित 15 अप्रैल तक हाइवे पर मजदूरों को रोककर खाने पीने की व्यवस्था कराई जाएगी. सेवा भाव में महेशराम चंद्राणी, बल्देवराज बल्लू, कृपाल जयवानी, चंदन रासवानी, डॉ. राजू त्यागी, विक्की साहित्या, तुषार सचदेवा, सुमेश पंजवानी, हर्ष कान्या, नंदलाल कुकरेजा आदि शामिल रहे.

  30 अप्रैल अंत के लिए बढ़ाया जा सकता है लॉकडाउन !

Check Also

कोरोना पॉजिटिव मृतक बुजुर्ग का नहीं था कोई ट्रेवल हिस्ट्री

रांची (Ranchi). बोकारो में कोरोना पॉजिटिव जिस 65वर्षीय बुजुर्ग की गुरुवार (Thursday) को मौत हुई …