पोर्ट सेक्टर में शुरू किए जाएंगे 130 प्रोजेक्ट्स


नई दिल्ली (New Delhi). इंफ्रास्ट्रक्चर के बाद अब सरकार (Government) पोर्ट सेक्टर में बड़े पैमाने पर निवेश करके रोजगार के अवसर पैदा करेगी. पांच साल में 1.25 लाख करोड़ रुपए के निवेश की योजना है. सूत्रों के अनुसार पोर्ट सेक्टर में 130 प्रोजेक्ट शुरू किए जाएंगे. इसमें ड्रेजिंग के 7 और टूरिज्म के 10 पोर्ट प्रोजेक्ट शामिल हैं. जानकारी के मुता‎बिक जो प्रोजेक्ट्स पोर्ट सेक्टर में शुरू किया जाने हैं, उन्हें इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट एंड कंस्ट्रक्शन (ईपीसी) और पीपीपी मॉडल के तहत क्रियान्वित किया जाएगा. 213 करोड़ डॉलर (Dollar) की लागत से महाराष्ट्र (Maharashtra) में वधावन पोर्ट बनेगा.

  कोराना वैक्सीन सबसे पहले मिलेगी हेल्थ वर्कर्स को, WHO ने दी यह जानकारी

पारादीप न्यू पोर्ट 116 करोड़ डॉलर (Dollar) की लागत से बनेगा. इसी तरह आंध्र का भावनापाडु पोर्ट 712.7 मिलियन डॉलर (Dollar) में तैयार होगा. केरल में कोचीन शिपयार्ड का प्रोजेक्ट जल्द पूरा किया जाएगा. इसकी लागत 237.9 मिलियन डॉलर (Dollar) है. केरल, आंध्र, पुदुचेरी और दमन में ड्रेजिंग के 6 प्रोजेक्ट शुरू होंगे. सरकार (Government) की कोशिश होगी कि तय समय पर प्रोजेक्ट पूरे हों. इसके लिए अधिकारियों का एक समूह नियमित तौर पर चल रहे काम की निगरानी करेगा. गौरतलब है कि सरकार (Government) ने 2024 तक इंफ्रा में 100 लाख करोड़ रुपए के निवेश का लक्ष्य बनाया है. इकॉनमिस्ट डॉ सारथी आचार्य का कहना है कि इंफ्रास्ट्रक्चर के बाद अब पोर्ट सेक्टर में अगर सरकार (Government) निवेश बढ़ा रही है तो यह अच्छी खबर है क्योंकि इससे स्किल्ड और अनस्किल्ड कामगारों को रोजगार मिलेगा.

  टाटा मोटर्स का HDFC Bank के साथ गठजोड़

Check Also

टाटा मोटर्स का HDFC Bank के साथ गठजोड़

मुंबई (Mumbai). देश की नामी ऑटोमोबाइल कंपनी टाटा मोटर्स ने शनिवार (Saturday) को कहा कि …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *