बायोमेडिकल वेस्ट के निस्तारण के लिए दिशा निर्देश जारी

जबलपुर, . प्रदेश में कोरोना संक्रमित नए-नए स्थान चिन्हित हो रहे हैं इस हेतु स्वास्थ्य विभाग के दलों द्वारा संदिग्ध कोरोना संक्रमित व्यक्तियों के सैंपल लिए जा रहे हैं. इस दल की सुरक्षा व क्षेत्र में निवासरत अन्य व्यक्तियों की सुरक्षा के लिए नगरीय विकास एवं आवास विभाग ने प्रमुख दिशा-निर्देश दिए हैं जिसमें चिकित्सा दलों द्वारा उपयोग किए जा रहे वाहनों का प्रतिदिन हाइपोक्लोराइट सॉल्यूशन से संक्रमणमुक्त करना. ऐसे शव वाहन उपकरण इत्यादि जिनका उपयोग कोरोना संक्रमित व्यक्ति के शव के परिवहन के लिए किया गया है उसको भी प्रत्येक उपयोग के बाद संक्रमणमुक्त करना. ऐसे उपकरण वाहन जिन्हें बायो मेडिकल वेस्ट के परिवहन के लिए उपयोग किया जा रहा है उन्हें भी प्रतिदिन 1त्न हाइपोक्लोराइट सॉल्यूशन से संक्रमणमुक्त करना सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए गए हैं. नगरीय विकास एवं आवास विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे द्वारा जारी निर्देशों में कहा गया है कि चिकित्सालय में उपयोग हो रहे कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की जांच उपचार इत्यादि के लिए उपयोग किए गए व्यक्तिगत सुरक्षा उपकरण, मेडिकल वेस्ट के निस्तारण इंसीनरेशन के माध्यम से सुनिश्चित किया जाए.

  यूपी में आये कोविड-19 संक्रमण के 273 नये मामले

उन्होंने ऐसे समस्त आवास तथा स्थान जहां पर कोरोना संक्रमित व्यक्तियों की को होम क्वारन्टीन या सेल्फ आइसोलेशन में रखा गया है वहां प्रयुक्त होने वाले सुरक्षा वस्त्र, मास्क,दस्ताने तथा ट्यूब मेडिसिन यूज्ड बेल्स इत्यादि को पृथक से पीले रंग के बैग में संकलित किया जाए तथा ऐसे आवासों-स्थानों से पृथक वाहन के माध्यम से इंसीनरेशन फैसिलिटी ऑपरेट करने वाले व्यक्ति को इंसीनरेशन से निस्तारण के लिए उपलब्ध कराया जाए, शेष कचरे को घरेलू कचरे के रूप में निस्तारण किया जाए. इसके अतिरिक्त सामान्य कोरोना अप्रभावित नागरिकों के द्वारा उपयोग किए जा रहे मास्क दस्ताने तथा अन्य उपकरणों को कचरा इक_ा करने वाले वाहन में प्रथक से इक_ा कर उनका पूर्ववत निस्तारण किया जाए, जिन नगरीय निकायों में इंसीनरेशन की व्यवस्था नहीं है वहां नजदीकी स्थान, निकाय, अस्पताल जहां यह व्यवस्था है वहां प्रचलित दर पर अनुबंध कर बायो मेडिकल वेस्ट के निराकरण करना सुनिश्चित करेंगे.

  अजमेर, उदयपुर और आबू रोड़ स्थित यात्री आरक्षण केन्द्र (PRS) 18.00 बजे के बाद नही खुलेंगे

नगरीय विकास एवं आवास विभाग के प्रमुख सचिव संजय दुबे ने उपरोक्त व्यवस्था से सामान्य नागरिकों को अवगत कराने के लिए डोर टू डोर वाहनों में उद्घोषणा कराने के लिए भी निर्देशित किया है. शासन के निर्देशों के परिपालन में नगर निगम आयुक्त आशीष कुमार ने निगम के वरिष्ठ अधिकारियों को इनका कड़ाई से पालन करने के लिए निर्देशित किया है. उन्होंने अलग-अलग विभागों के अधिकारियों से इस संबंध में चर्चा कर इनका कड़ाई से पालन करने के लिए उन्हें विभिन्न दायित्व भी सौंपे. नगर निगम आयुक्त श्री आशीष कुमार ने बताया कि मध्य प्रदेश शासन के नगरीय विकास एवं आवास विभाग के प्रमुख सचिव श्री संजय दुबे द्वारा जारी निर्देशों का कड़ाई से पालन किया जाएगा एवं कोरोना संक्रमण को फैलने से रोकने के लिए सभी आवश्यक उपाय किए जाएंगे. निगमायुक्त श्री कुमार ने इस कार्य में लापरवाही न बरतने की हिदायत भी दी है.

  मुश्किल भारत में जुलाई तक 21 लाख कोरोना केस की संभावना

Check Also

दिल्ली में कोरोना के करीब 7000 मरीज हुए ठीक अब तक 288 की गई जान

नई दिल्ली (New Delhi). दिल्ली में बीते 24 घंटे के दौरान कोविड-19 (Kovid-19) से 12 …