बेंगलुरु में फ्लाईओवर का नाम स्वतंत्रता संग्राम सेनानी वीर सावरकर के नाम पर रखने संबंधी प्रस्ताव पास

बेंगलुरु (Bengaluru). कर्नाटक (Karnataka) की राजधानी बेंगलुरु (Bengaluru) में स्वतंत्रता संग्राम सेनानी और हिंदुत्व विचारक वीर दामोदर सावरकर के नाम पर फ्लाईओवर के नामकरण संबंधी प्रस्ताव पास हो गया है. बृहत बेंगलुरु (Bengaluru) महानगर पालिका (बीबीएमपी) ने विपक्षी दलों के कड़े विरोध के बीच प्रस्ताव को पास कर दिया. बेंगलुरु (Bengaluru) के येलाहांका में एक फ्लाईओवर का नाम वीर सावरकर के नाम पर रखे जाने का ऐलान सरकार (Government) पहले ही कर चुकी थी. 34 करोड़ की लागत से तैयार 400 मीटर लंबे पुले का उद्घाटन 28 मई को सीएम बी.एस. येदियुरप्पा को करना था, लेकिन कोरोना संक्रमण का हवाला देकर कार्यक्रम कैंसल कर दिया गया था. मंगलवार (Tuesday) को काउंसिल की बैठक में प्रस्ताव को पारित कर दिया गया.

  महिलाओं से गर्भस्थ शिशु तक भी पहुंच सकता है कोरोना वारस

कांग्रेस और जनता दल(एस) ने शहर में फ्लाईओवर का नामकरण वीर सावरकर के नाम पर करने के कदम का विरोध करते राज्य के स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान बताया है. विपक्ष के नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) सिद्धरमैया ने फ्लाईओवर का नामकरण सावरकर के नाम पर करने को कर्नाटक (Karnataka) की धरती के स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान बताया. उन्होंने सीएम से आग्रह किया कि वह इस रोक दें और फ्लाईओवर का नामकरण राज्य के किसी स्वतंत्रता सेनानी के नाम पर करें. इसी तरह एक पूर्व मुख्यमंत्री (Chief Minister) और जेडी (एस) नेता एच.डी. कुमारस्वामी ने कहा कि यह निर्णय उन लोगों का अपमान है, जिन्होंने राज्य की समृद्धि के लिए संघर्ष किया और ऐसा करना सरकार (Government) का अधिकार नहीं है.

  परीक्षा कैलेंडर को अंतिम रूप दे और विवि में खाली पदों भरे: उपराष्ट्रपति

सूत्रों के अनुसार येलाहांका में फ्लाईओवर का नामकरण वीर सावरकर के नाम पर करने का निर्णय 29 फरवरी को वृहद बेंगलुरु (Bengaluru) महानगर पालिका (शहर निकाय) परिषद की बैठक में किया गया था. येलाहांका के विधायक एवं मुख्यमंत्री (Chief Minister) के राजनीतिक सचिव एस आर विश्वनाथ ने कदम का बचाव करते हुए कहा कि उस स्वतंत्रता सेनानी के नाम पर फ्लाईओवर का नामकरण करने में कुछ भी गलत नहीं है, वीर सावरकर को जेल की सजा हुई थी, उन्होंने देश की खातिर कालापानी (पूर्ववर्ती अंडमान जेल) में सजा काटी.उन्होंने कहा कि बीबीएमपी परिषद ने नियमों के अनुसार कानूनी रूप से मंजूरी दे दी है और सभी औपचारिकताएं पूरी कर ली गई हैं और उसके बाद ही नामकरण की योजना बनाई गई है. विश्वनाथ ने फ्लाईओवर का नामकरण पर सावरकर के नाम पर करने पर विवाद उत्पन्न करने के प्रयास को स्वतंत्रता सेनानियों का अपमान करार दिया. कांग्रेस ने साथ ही कर्नाटक (Karnataka) और बेंगलुरु (Bengaluru) के प्रति सावरकर के योगदान को लेकर सवाल उठाया.कांग्रेस और अन्य विपक्षी दलों ने इससे पहले सावरकर को मरणोपरांत भारत रत्न से सम्मानित करने के सुझाव का भी जोरदार विरोध किया था.

  यूपी STF ने विकास दुबे का एनकाउंटर किया

Check Also

राजस्‍थान में एसओजी के जवान ने बंदर को बनाया निशाना

जयपुर (jaipur). राजस्थान (Rajasthan) में पुलिस (Police) के जवान ने एक बंदर को अपनी गोली …