भाजपा की पूर्व विधायक पारुल साहू कांग्रेस में शामिल

सुरखी विधानसभा में एक बार फिर हाइ प्रोफाइल मुकाबला होने के आसार

भोपाल . मध्‍य प्रदेश में उप चुनाव से ठीक पहले सागर जिले की सुरखी विधानसभा में एक बार फिर हाइ प्रोफाइल मुकाबला होने के आसार नजर आने लगे हैं. सुरखी की पूर्व भाजपा विधायक पारुल साहू ने शुक्रवार को यहां प्रदेश कांग्रेस कार्यालय में कांग्रेस की सदस्‍यता ले ली. पूर्व मुख्‍यमंत्री कमल नाथ इस मौके पर स्‍वयं उपस्थित थे. माना जा रहा है कि कांग्रेस अब पारुल साहू को सुरखी में गोविंदसिंह राजपूत के खिलाफ मुकाबले में उतारेगी.

congress-parul

कमल नाथ लगातार दावा कर रहे हैं कि भाजपा के कई नेता उनके संपर्क में हैं. पारुल साहू ने गुरुवार शाम कमल नाथ से मुलाकात की तो भाजपा के खेमे में खलबली मच गई. कमल नाथ और पारुल साहू के बीच मुलाकात की तस्वीरें सोशल मीडिया पर वायरल होने के बाद यह तय हो गया था कि वे कांग्रेस में शामिल हो रही हैं.

  पुलवामा आतंकी हमले पर पाक का कुबूलनामा

अब यह चर्चा तेज हो रही है कि कांग्रेस सुरखी से पारुल साहू को उम्मीदवार बनाएगी. इस सीट से ज्योतिरादित्य सिंधिया के समर्थक मंत्री गोविंद सिंह राजपूत उपचुनाव लड़ रहे हैं. पारुल साहू ने सदस्‍यता लेने के बाद अपने संक्षिप्‍त उद्बोधन में कहा कि सुरखी की जनता चाहती है कि वे उनकी आवाज बनें. वे डर और अहंकार के खिलाफ डटकर खडी रहेंगी. इससे साफ हो गया है कि कांग्रेस उन्‍हें सुरखी से मैदान में उतरी रही है.

  थर-थर कांप रहे थे जनरल बाजवा के पैर

parul-sahu-congress

वास्‍तविकता तो यह है कि पारुल शुरू से ही गोविंद सिंह राजपूत के खिलाफ है. उनका कांग्रेस की सदस्यता लेना बीजेपी के लिए बड़ा झटका है. कुछ दिन पहले ग्वालियर-चंबल के कई बीजेपी नेता कांग्रेस में शामिल हुए थे. गुरुवार शाम आवास मंत्री भूपेंद्र सिंह ने कहा था कि उन्‍हें पारुल साहू के भाजपा छोड़ने के बारे में कोई जानकारी नहीं है और उन्‍हें उम्‍मीद है कि वे ऐसा कुछ नहीं करेंगी. हालांकि यह बात अब गलत साबित हो चुकी है.

साल 2013 के चुनाव में भाजपा की पारुल साहू ने कांग्रेस के गोविंद सिंह को शिकस्त दी थी. 2018 में उनका पार्टी ने टिकट काट दिया था. वही सिंधिया समर्थक गोविंद सिंह राजपूत के बीजेपी में शामिल होने के बाद से वह नाराज चल रही हैं. अब वह कांग्रेस में शामिल हो गई हैं और पार्टी पारुल साहू को अपना उम्मीदवार बनाती है तो इसके बाद सुरखी में एक बार फिर मंत्री गोविंद सिंह राजपूत और पारुल साहू के बीच उपचुनाव में मुकाबला होगा.


Check Also

थर-थर कांप रहे थे जनरल बाजवा के पैर

अयाज सादिक के बयान पर पाकिस्तान में जमकर हंगामा नई दिल्‍ली . पाकिस्तान में पीएमएल-एन …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *