मोबाइल कैटरिंग अनुबंध रद्द करने के बाद आईआरसीटीसी के शेयरों में गिरावट

नई दिल्ली (New Delhi) . आईआरसीटीसी के शेयरों में मंगलवार (Tuesday) को गिरावट देखी गई. सुबह 9.36 बजे आईआरसीटीसी के शेयर 1.55 फीसदी गिरकर 1909.05 रुपए पर ट्रेड कर रहे थे. इससे पहले सोमवार (Monday) शाम रेल मिनिस्ट्री ने आईआरसीटीसी को सभी तरह के मोबाइल केटरिंग के कॉन्ट्रैक्ट्स खत्म करने को कहा है. मंत्रालय ने रेगुलेटर को दी गई जानकारी में बताया कि आईआरसीटीसी को सभी मोबाइल कैटरिंग कॉन्ट्रैक्ट्स रद्द करना होगा, फिर चाहे वह ट्रेन से यात्रा करने वाले पैसेंजर्स को बेस किचन में तैयार किया गया खाना ही क्यों न परोस रहे हों.

  पॉजीटिव होने के बावजूद यात्रा करना पड़ा भारी, इंडिगो सहित 3 के विरूद्ध FIR दर्ज

ट्रेनों में मोबाइल कैटरिंग की सुविधा 2014 में शुरू की गई थी, जिसमें यात्री अपने फेवरेट ब्रांड से ऑनलाइन फूड ऑर्डर कर सकते थे और पैसेंजर्स को उनकी ऑर्डर किया हुआ फूड उनके बर्थ पर डिलिवर होता था. रेल मंत्रालय ने कहा कि इसे कोरोना (Corona virus) के कारण उपजे हालात की वजह से एक्सेप्शन मानें और इसे कॉन्ट्रैक्टर की गलती के रूप में नहीं देखा जाए. रेल मंत्रालय ने केटरिंग कॉन्ट्रैक्ट्स खत्म करने का आदेश देते हुए कहा है कि अब खाना नहीं परोसने पर किसी भी फूड कॉन्ट्रैक्टर पर फाइन नहीं लगाया जाएगा.

  डबोक एयरपोर्ट से कोरोना पोजेटिव भागा, इंडिगो एयरलाइंस सहित 3 के खिलाफ FIR

उनकी सिक्योरिटी डिपॉजिट और एडवांस लाइसेंस फीस बकाया पेमेंट में एडजस्ट करके लौटा दिया जाएगा. दरअसल, 19 जनवरी 2021 को मद्रास हाईकोर्ट में इंडियन रेलवे (Railway)मोबाइल केटरर्स एसोसिएशन (आईसीआरएमसीए) ने यह मुद्दा उठाते हुए मांग की थी कि उन्हें रेलवे (Railway)की केटरिंग में अपनी सर्विस रिस्टोर करने की इजाजत दी जाए, जो लॉकडाउन (Lockdown) के कारण मार्च, 2020 से ही बंद है. रेल मंत्रालय का यह आदेश कोर्ट में इस पीटिशन के बाद आया है. इससे पहले रेलवे (Railway)ने कहा था कि फरवरी से ट्रेनों में ई-कैटरिंग की सुविधा शुरू कर दी जाएगी.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *