रजिस्ट्रार ने FIR दर्ज कराने लिखा पत्र, रादुविवि की परीक्षाओं को लेकर उड़ाई अफवाह


जबलपुर (Jabalpur). रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय की परीक्षाओं को लेकर बुधवार (Wednesday) को सोशल मीडिया (Media) पर एक फर्जी मैसेज वायरल होने से हड़कंप मच गया. यह मैसेज रजिस्ट्रार के नाम से वायरल किया गया था. सोशल मीडिया (Media) पर मैसेज वायरल होते ही छात्र (student) परेशान हो गए. छात्रों ने जब इस संबंध में रजिस्ट्रार से बातचीत की तो खुलासा हुआ कि मैसेज फर्जी है. इसके बाद रजिस्ट्रार ने एफआईआर (First Information Report) दर्ज कराने सिविल लाइन्स पुलिस (Police) को पत्र लिखा. सिविल लाइन्स पुलिस (Police) ने मामले की जाँच शुरू कर दी है.

  विकास दुबे इन्काउंटर, अचानक सड़क पर गाय-भैंस आ जाने से पलटी गाड़ी !

प्राप्त जानकारी के अनुसार बुधवार (Wednesday) की सुबह सोशल मीडिया (Media) पर रादुविवि की परीक्षाओं को लेकर एक मैसेज वायरल हुआ. वायरल मैसेज में कहा गया कि रादुविवि की सभी स्थगित परीक्षाओं को आगे बढ़ा दिया गया है. सभी छात्रों को फस्र्ट डिवीजन देते हुए पास करार दिया जाता है. मैसेज रजिस्ट्रार के हस्ताक्षर से वायरल किया गया था. सोशल मीडिया (Media) पर मैसेज वायरल होने के बाद छात्रों ने रजिस्ट्रार से इस संबंध में मोबाइल पर पूछना शुरू किया. रजिस्ट्रार ने जानकारी दी कि उन्होंने ऐसा कोई भी आदेश जारी नहीं किया गया है. दोपहर 1 बजे रजिस्ट्रार डॉ. कमलेश मिश्रा ने सिविल लाइन्स थाने पहुँचकर फर्जी मैसेज वायरल करने वाले के खिलाफ एफआईआर (First Information Report) दर्ज करने के लिए पत्र दिया. सिविल लाइन्स पुलिस (Police) ने फर्जी मैसेज का पता लगाने के लिए साइबर सेल से जाँच कराने के लिए पत्र लिखा है.

  [वट्स कुकिंग]: इमली चावल का स्वाद

वायरल किया कूटरचित आदेश

सोशल मीडिया (Media) पर बुधवार (Wednesday) को परीक्षाओं के संबंध में उनके हस्ताक्षर से एक भ्रामक और कूटरचित आदेश वायरल किया गया. छात्रों ने इस संबंध में उन्हें जानकारी दी. जानकारी मिलने के बाद उन्होंने सिविल लाइन्स पुलिस (Police) को एफआईआर (First Information Report) दर्ज करने के लिए पत्र लिखा है.
-डॉ. कमलेश मिश्रा, रजिस्ट्रार, रादुविवि

  एनटीपीसी ने प्रतिष्ठित CII-ITC Sustainability Award-2019 जीता

साइबर सेल कर रहा जांच

रानी दुर्गावती विश्वविद्यालय के रजिस्ट्रार ने बुधवार (Wednesday) को सोशल मीडिया (Media) में परीक्षाओं के संबंध में भ्रामक और कूटरचित आदेश वायरल होने के संबंध में एफआईआर (First Information Report) दर्ज करने पत्र लिखा है. इस मामले की जाँच साइबर सेल से कराई जा रही है. जाँच के बाद एफआईआर (First Information Report) दर्ज की जाएगी.
-संजय भलावी, थाना प्रभारी, सिविल लाइन्स

Check Also

आत्‍मनिर्भर भारत पैकेज, अब तक की प्रगति: वित्तमंत्री सीतारमण

नई दिल्ली (New Delhi). प्रधानमंत्री नरेन्‍द्र मोदी ने भारत में कोविड-19 (Covid-19) महामारी (Epidemic) से …