राजस्थान खुफिया पुलिस विभाग में 230 पद है खाली


जयपुर (jaipur). उलझे हुए हर तरह के केसो को सुलझाने का काम खुफिया पुलिस (Police) की जिम्मेदारी मानी जाती है ऐसे में राजस्थान (Rajasthan) इन्टेलीजेंस पुलिस (Police) महकमे में करीब 230 से ज्यादा पद खाली है इन पदों को विशेष चयन के जरिये भरने की कवायद शुरू की जा रही है. इसके लिए राज्य विशेष शाखा ने पुलिस (Police)कर्मियों से एप्लीकेशन भी मांगी है.

राज्य में आमजन हितों का ध्यान रखते हुए कानून-व्यवस्था पुख्ता बनाने और प्रशासनिक कार्यप्रणाली को बेहतर तरीके से संचालन में पुलिस (Police) के खुफिया तंत्र का महत्वपूर्ण योगदान होता है. इधर किसी भी सरकार (Government) का आंख, कान, नाक माने जाने वाले खुफिया विभाग में लम्बे समय से पद खाली चले आ रहे है. वहीं, दूसरी ओर वर्तमान हालातों को देखते हुए खुफिया तंत्र पर लगातार जिम्मेदारी बढ़ती जा रही हेै. ऐसे में प्रदेश के खुफिया तंत्र को मजबूत करने की दिशा में कदम उठाए जा रहे हैं. इसके लिए गृह विभाग स्तर से चर्चा की गई है.

  एम्स ने सुशांत की मौत की रिपोर्ट CBI को दी

बता दें कि राज्य की इंटेलीजेंस पुलिस (Police) में एसआई के 52, एएसआई के 31 तथा कांस्टेबल के 150 पद खाली हैं जनता के बीच, राजनीति दलों और सरकारी ऑफिसों में सूचनाएं एकत्र करने में इन पदों की महत्वपूर्ण भूमिका होती है अब क्राइम के तरीके भी बदल गए हैं. ऐसे में खुफिया तंत्र को और मजबूत करने की जरूरत आन पड़ी ऐसे में इन पदों को राजस्थान (Rajasthan) पुलिस (Police) से विशेष चयन से भरा जाएगा. एडीजी इंटेलीजेंस उमेश मिश्रा ने पत्र जारी कर इच्छुक एसआई,एएसआई और कांस्टेबल से प्रार्थना पत्र मांगे हैं मिश्रा ने पुलिस (Police) आयुक्त जयपुर (jaipur)-जोधपुर, सभी आईजी, आईजी रेंज, सभी एसपी को पत्र लिखा है इंटेलीजेंस में चयन होने पर मूल वेतन का 25 प्रतिशत स्पेशल भत्ता दिया जाएगा इनका विशेष चयन एक साल के लिए किया जाएगा.

  आर्मीनिया और अजरबैजान के बीच जंग छिड़़ी

Check Also

प्रो. रेणु जैन देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति

आप यहां हैं :Home » प्रो. रेणु जैन देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति भोपाल . …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *