विश्व पत्रकारिता दिवस 71 सम्मानित : उदयपुर के हरीश पालीवाल पत्रकारिता दिवस पर सकारात्मक पत्रकारिता के लिए सम्मानित

उदयपुर (Udaipur). अंतरराष्ट्रीय पत्रकार संघ की प्रदेश इकाई द्वारा पत्रकारिता दिवस के उपलक्ष में कोरोना (Corona virus) की जंग में सकारात्मक पत्रकारिता करने एवं लोगोंंं जागरूक करउनमें सतर्क रहने की चेतना जगाने वाले उदयपुर (Udaipur) के पत्रकार एवं संघ के संभागीय अध्यक्ष हरीश पालीवाल शहीद देश के 71 पत्रकारों को राष्ट्रीय स्तर पर प्रशस्ति पत्र व नगद सम्मान सेऑनलाइन  सोशल मीडिया (Media) के माध्यम से सम्मानित किया गया है.

यह सम्मान अंतरराष्ट्रीय पत्रकार संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मदन गोपाल तिवारी एवं प्रदेश अध्यक्ष राजेश कच्छावा के सानिध्य में आज सोशल मीडिया (Media) पर ऑनलाइन आयोजित विश्व पत्रकारिता दिवस के उपलक्ष में  संपन्न समारोह में संघ के सभी पदाधिकारियों की सर्वसम्मति से उदयपुर (Udaipur) के पत्रकार हरीश पालीवाल को प्रदान किया गया है. ज्ञात रहे, कोरोना (Corona virus) महामारी (Epidemic) के चलते प्रदेश सहित संपूर्ण राष्ट्र में चल रहे लॉक डाउन के कारण सोशल गैदरिंग नहीं करने तथा सरकार (Government) की जारी एडवाइजरी का पालन करने के उद्देश्य से शनिवार (Saturday) को पत्रकारिता दिवस के उपलक्ष में बीकानेर में आयोजित होने वाला सम्मान समारोह आयोजित नहीं किया गया है.

  भारत-चीन सीमा विवाद को लेकर देश को सच नहीं बता रही है सरकार : चिदंबरम

 अंतरराष्ट्रीय पत्रकार संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष मदन गोपाल तिवारी ने बताया कि कोरोना (Corona virus) की जंग में पत्रकारों की महत्वपूर्ण भूमिका रही है पत्रकारों ने वैश्विक कोरोना महामारी (Epidemic) में समाचारों का आंकलन कर समाचार पत्रों में प्रकाशित करने एवं इलेक्ट्रॉनिक चैनलों में समाचारों को दिखाने, प्रसारण व प्रसारित करने में महती भूमिका अदा की है. इस विषम परिस्थिति में ही पत्रकारों के द्वारा अपने सामाजिक दायित्व का निर्वहन करते हुए ई-भामाशाह को तैयार कर आम जरूरतमंद लोगों को निशुल्क भोजन, पानी, मास्क, सेनीटाइजर आदि का वितरण कराने, कोरोना रोकथाम हेतु समाचार पत्र और टीवी चैनलों एवं सोशल मीडिया (Media) द्वारा जन जागरूकता लाने व सुरक्षा के उपायों का प्रचार प्रसार करने के महत्वपूर्ण कार्य किए हैं.

  बुरी खबर : 2021 तक कोरोनो वायरस वैक्सीन आने की संभावना नहीं

संघ के प्रदेश अध्यक्ष राजेश कच्छावा ने बताया कि प्रदेश सहित राष्ट्र में पत्रकारिता का कार्य करने वाले 19 प्रतिशत पत्रकार तो ऐसे हैं, जो बिना किसी पारश्रमिक, वेतन के वर्षो से कार्य कर रहे हैं. विभिन्न सरकारी सुविधा के अभाव में भी यह पत्रकार आमजन की सेवा कार्य में दिन रात लगे हुए हैं, ऐसे पत्रकारों को अंतरराष्ट्रीय पत्रकार संघ सलाम करता है, उनका सम्मान करता है.इस महामारी (Epidemic) के दौर में जहां लोग घरों में कैद होकर जीवन यापन कर रहे हैं, वहीं पत्रकार अपनी जान की परवाह किए बिना कोरोना महामारी (Epidemic) की खबर एवं विभिन्न विभागों के भ्रष्टाचार की खबर को उजागर करने में सक्रियता से कार्य कर रहे हैं. राजस्थान प्रदेश सहित देश के करीब 71 पत्रकारों को सम्मानित किया गया है.

  सेना के जवानों को निर्देश, 89 ऐप्स करें डिलीट

Check Also

रीवा अल्‍ट्रा सोलर प्रोजेक्‍ट को लेकर बयानबाजी

पीएम ने रीवा सौर ऊर्जा परियोजना को बताया एशिया में सबसे बड़ा, राहुल ने किया …