वैकल्पिक योजना की कमी से हुआ भारतीय टीम को नुकसान : नासिर हुसैन

लंदन. इंग्लैंड क्रिकेट टीम के पूर्व कप्तान नासिर हुसैन ने कहा है कि आईसीसी टूर्नामेंटों के लिए भारतीय टीम की चयन नीति ठीक नहीं थी, इसलिए कई बार उसे असफलता का सामना करना पड़ा है. नासिर के अनुसार भारतीय टीम के पास इस दौरान शीर्ष क्रम के विफल होने पर कोई वैकल्पिक योजना नहीं थी. फिर चाहे वह 2014 में आईसीसी विश्व टी20 हो या 2017 की आईसीसी चैंपियन्स ट्रॉफी हो या इंग्लैंड में 2019 का विश्व कप, प्रत्येक टूर्नामेंट में एक खराब मैच के कारण टीम को बाहर होना पड़ा.
हुसैन ने एक कार्यक्रम में कहा, ‘आईसीसी टूर्नामेंटों में हालातों के हिसाब से तालमेल नहीं होने का कारण भारतीय टीम के चयन में गलती रही है. यह केवल एक मैच की योजना से जुड़ा हुआ नहीं है.’

  दीपिका, सारा और श्रद्धा को क्लीन चिट नहीं

इंग्लैंड के पूर्व कप्तान के अनुसार सीमित ओवरों की क्रिकेट में कप्तान विराट कोहली और उनके साथ उपकप्तान रोहित शर्मा के शानदार प्रदर्शन के बाद भी मध्यक्रम हमेशा कठिन हालातों से सामंजस्य बिठाने के लिए तैयार नहीं रहता.
उन्होंने कहा, ‘अगर कोहली और रोहित आउट हो जाते हैं और स्कोर दो विकेट पर 20 रन हो जाता है तो क्या आपका मध्यक्रम इस परिस्थिति के लिए तैयार है. भारतीय क्रिकेट के लिए यह गलत हो सकता है कि उसका शीर्ष क्रम बहुत अच्छा है. जब कोहली, रोहित शतक जड़ते हैं और मध्यक्रम के बल्लेबाजों को मौका नहीं मिलता है तो ठीक रहता है.’
हुसैन का मानना है कि जब भारत शुरू में तीन विकेट गंवा देता है तो उसके पास इसका कोई जवाब नहीं होता है. वहीं ऐसे हालातों से निपटने के लिए आपनके पास ‘प्लान बी’ जरूरी होता है. केवल ‘प्लान ए’ से ही काम नहीं चलता है.’ इस दौरान हुसैन ने कहा कि विराट अच्छे कप्तान हैं पर अभी भी उन्हें अपनी रणनीति में सुधार करना होगा.

  मुखर व्यक्तित्व वाले जसवंत सिंह की शख्सियत सबसे अलग थी, आतंकियों को लेकर जब गए थे कंधार

Check Also

प्रो. रेणु जैन देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति

आप यहां हैं :Home » प्रो. रेणु जैन देवी अहिल्या विश्वविद्यालय की कुलपति भोपाल . …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *