शिक्षकों को लिखकर देना होगा, हम ट्यूशन नहीं करते

डूंगरपुर. ट्यूशन करने वाले शिक्षकों की अब खैर नहीं, फिर चाहे वह सामान्य शिक्षक हो या स्कूल के प्राचार्य. पकड़े जाने पर सेवा नियमों के अनुसार कार्रवाई होगी और नौकरी से भी हाथ धोना पड़ सकता है.

शिक्षा विभाग के निदेशक नथमल डिडेल ने आदेश दिया है कि सत्र शुरू होने पर शिक्षकों से एक हलफनामा लिया जाएगा जिसमें इस बात की स्वयं घोषणा करेगा कि वह ट्यूशन नहीं करेगा. इसके बाद हर महीने भी इस तरह की लिखित में जानकारी देंगे कि वे ट्यूशन नहीं पढ़ा रहे हैं. नियम की पालना नहीं होने पर पहले सत्यापन किया जाएगा. फिर सही साबित होने पर राजस्थान (Rajasthan)सिविल सेवा नियम 1958 और राजस्थान (Rajasthan)सेवा (आचरण) नियम 1971 के प्रावधान के अंतर्गत नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी.

न्‍यूज अच्‍छी लगी हो तो कृपया शेयर जरूर करें

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *