सफलता और विफलता से अधिक प्रभावित नहीं होता : कमिंस

टेस्ट क्रिकेट को बताया पहली प्राथमिकता

सिडनी. ऑस्ट्रेलियाई क्रिकेटर पैट कमिंस का कहना है कि वह सफलता और विफलता से अधिक प्रभावित नहीं होते हैं. कमिंस पिछले साल इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) में सबसे महंगे खिलाड़ी रहे थे हालांकि इस गेंदबाज का कहना है कि इतना बड़ा करार होने के बाद भी उनकी जिंदगी में ज्यादा बदलाव नहीं आया.

तब कमिंस को कोलकाता (Kolkata) नाइट राइडर्स (केकेआर) ने रिकॉर्ड 15 करोड़ 50 लाख रुपये की राशि में खरीदा था जिससे वह लीग के इतिहास में सबसे महंगे विदेशी खिलाड़ी बने थे. पिछले साल नीलामी में इतनी अधिक राशि मिलने के बारे में कमिंस ने कहा, ‘मुझे लगता है कि मेरे जीवन में कोई बदलाव नहीं आया. मैं प्रत्येक मैच में अपना सर्वश्रेष्ठ प्रयास करता हूं और साथ ही कोशिश करता हूं कि किसी तरफ की सफलता या विफलता का मेरे जीवन पर अधिक प्रभाव नहीं पड़े.’ कमिंस ने कहा कि नीलामी में इतनी अधिक राशि मिलने की खुशी अब भी है और शायद जब वह फिर खेलने के लिए जाएं तो इस भावना को पीछे छोड़ पाएंगे. हाल के समय में कई खिलाड़ियों ने अपनी प्राथमिकताएं बदल दी हैं ऐसे में कमिंस के लिए टेस्ट प्रारूप सबसे पहले है. उन्होंने कहा, ‘मैं टेस्ट क्रिकेट को देखते हुए और प्यार करते हुए बड़ा हुआ और अब भी कुछ नहीं बदला है. मुझे लगता है कि यह सबसे चुनौतीपूर्ण प्रारूप है क्योंकि यह आपके कौशल, स्टेमिना और मानसिक मजबूती की परीक्षा लेता है.’ कमिंस ने कहा, ‘प्रत्येक टेस्ट जीत काफी संतोषजनक होती है.’

  उदयपुर पुलिस ने गंभीरता दिखाते हुए ऋषभदेव में उपद्रव मामले में पुलिस ने 7 लोगों को किया गिरफ्तार !

Check Also

उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू कोरोना पॉजिटिव पाए गए

नई दिल्ली (New Delhi). उपराष्ट्रपति वेंकैया नायडू कोरोना पॉजिटिव पाए गए हैं. उपराष्ट्रपति ने मंगलवार …

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *