‘‘सोसल डिस्टेंसिंग’’ की धज्जिया उडा रहे डीएम आजमगढ

आजमगढ( ). ‘‘कोरोना (Corona virus)’’ को लेकर जहा एक तरफ मुख्यमंत्री (Chief Minister) के साथ पूरा शासन ‘‘जद्दोजहद’’ कर रहा है वही पंर आजमगढ के जिलाधिकारी नागेंद्र प्रताप सिंह खुद ‘‘सोसल डिस्टेंसिंग’’ का पालन नही कर रहे है. जिलाधिकारी की इस करतूत का खुलसा बुधवार (Wednesday) से गुरूवार तक ‘‘ ’’ के हाथ लगे अब तक के दो ‘‘फोटों’’ को देखकर आसानी से लगाया जा सकता है. जिलाधिकारी के इस कृत्य का ने बुधवार (Wednesday) को हाथ लगे एक फोटों’’ के माध्यम से खुलासा किया है.

जिलाधिकारी केवल पत्रकारों के साथ ही नही सोसल डिस्टेंसिंग’’ का उल्लंघन कर रहे बल्कि स्वास्थ्य विभाग और पुलिस (Police) कर्मचारियों के साथ रहते हुए भी सोसल डिस्टेंसिंग’’ का पालन नही कर रहे है. देस में कोरोना (Corona virus) के फैलाव को रोकने के लिए ‘‘सोसल डिस्टेंसिंग’’ का पालन कितना उपयोगी है? पर बातचीत में सीएमओं ए0के0 मिश्र ने से ‘‘सोसल डिसटेंसिंग’’ पर चर्चा करते हुए कहा कि चूकि ‘‘कोरोना (Corona virus)’’ बहुत दूर तक ‘‘ट्रेवेल’’ नही कर सकता है इस लिए प्रधानमंत्री से लेकर मुख्यमंत्री (Chief Minister) द्वारा लोगों से कम से कम 3 फिट या फिर एक से डेढ मीटर की दूरी पर रहने की अपील की जा रही है. ‘‘कोरोना (Corona virus)’’ का एक दूसरे में फैलाव न हो इसके लिए ‘‘सोसल डिस्टेंसिंग’’ का पालन अति आवश्यक है. सरकारी मंशा के अनुसार जो भी ‘‘सोसल डिस्टेंसिंग’’ का पालन नही कर रहा है उसे कोरोना (Corona virus) के फैलाव का संभावित कारण मानते हुए उसके खिलाफ कार्यवाही की जा रही है.

  छेड़छाड़ का फरार आरोपी फांसी पर झूला

बताते चले कि जिलाधिकारी नागंेद्र प्रताप सिंह के द्वारा ‘‘सोसल डिस्टेंसिंग’’ का पालन नही किया जा रहा है इसका एक और फोटो के हाथ लगा है जिसमें वे स्वास्थ्य विभाग के कर्मचारियों और कुछ पुलिस (Police) कर्मचारियों से बातें कर रहे है. हालांकि इस दौरान जिलाधिकारी और उनके सामने खड़े स्वास्थ्य और पुलिस (Police) कर्मचारी अपने-अपने हाथों में दस्ताना और मुख पर ‘‘मास्क’’ लगाऐ है. खबर के बाद जिलाधिकारी के द्वारा अब पत्रकारवार्ता से बचे जाने की खबर आ रही है. इसमें कितनी सच्चाई है इसपर जिलाधिकारी की राय नही मिल पाई है. सूत्रों की माने तो खबरों को जिलाधिकारी अब ‘‘मेल और हवाटसएस ग्रुप’’ के माध्यम से संवाददाताओं तक पहुचवाएंगे. हालांकि जिले में तीन कोरोना पीडितों की दूसरी रिपोर्ट निगेटिव आने के बाद अब केवल 1 ही कोरोना पीड़ित है. जिले में 96 सेंपल जांच के लिए भेजे गए थे जिसमें 79 की रिपोर्ट निगेटिव मिली है. 13 सेंपलों की रिपोर्ट का जिले को इंतजार है.

  लाकडाउन के कारण नहीं कराया बेटे की मौत पर मृत्‍युभोज, पंचायत ने किया समाज से बेदखल

Check Also

नया दावा, अमेरिका में दो माह में कोरोना से मौत के आंकड़े तीन गुना तक बढ़ सकते

वाशिंगटन. अमेरिका में कोरोना का संक्रमण अभी भी तेजी से फैल रहा है. अगर यहीं …