Tuesday , 11 December 2018
Breaking News

पानीपत कचहरी के सामने से वकील का अपहरण, एक लाख की फिरौती वसूल कर छोड़ा

पानीपत, 13 अक्टूबर (उदयपुर किरण). पानीपत की कचहरी के सामने से कार सवार दो बदमाशों ने एक वकील का अपहरण कर लिया और उसके रिश्तेदारों से एक लाख रूपये की फिरौती वसूल कर छोडा. इस घटना से सहमे वकील की शिकायत पर शनिवार की शाम को थाना सिटी पुलिस ने केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. जबकि वकील के अपहरण की इस घटना से वकीलों में रोष व्यप्त है.

प्राप्त जानकारी के अनुसार थाना सिटी पुलिस को दी शिकायत में वकील बलेश ने बताया कि वह पानीपत के गांव छाजपुर का निवासी है और पानीपत कचहरी के चैंबर नंबर-141 में उनका कार्यालय है. उन्होंने बताया कि वह वीरवार की दोपहर करीब पौने दो बजे उनके मोबाइल फोन पर कॉल आई. कॉल करने वाले ने कहा कि वह रेवाड़ी से बोल रहा है. उसका कोई रिश्तेदार एक्सीडेंट के केस में पानीपत के कस्बे समालखा कोर्ट में तारीख पर आया है, उसकी जमानत के लिए तुम्हारे किसी जानकार ने नंबर दिया है. इसके बाद वकील कहने लगा कि वह अपनी बाइक से समालखा जा रहा है. जिस पर आरोपियों ने कहा कि उनके पास गाड़ी है और वह कोर्ट के बाहर आ जाएं वह उनके साथ गाड़ी में ही समालखा तक चले. इसके बाद वकील कोर्ट के बाहर आया, जहां उसने देखा की गाड़ी में दो युवक बैठे हैं. जिन्होंने वकील को गाड़ी में बैठने का इशारा किया. वकील उनके इशारे पर गाड़ी में बैठ गया.

इसके बाद आरोपियों ने गाड़ी को पानीपत टोल प्लाजा की ओर मोड़ लिया. टोल प्लाजा यू टर्न से फ्लाईओवर से होते हुए सिवाह से रोहतक जाने वाले हाईवे पर गाड़ी को चढ़ा लिया. जिस पर वकील ने कहा कि यह रास्ता समालखा नहीं जाता. आरोपियों ने वकील के इतना कहने पर उसके दोनों हाथ पीछे की ओर मोड़ लिए और साथ ही आरोपितों ने वकील पर पिस्तौल तान दी. आरोपितों ने कहा कि तेरी फिरोत्ी आई हुई है, साथ ही तेरे ताऊ के लड़के राम रतन की भी फिरौती आई हुई है. चुपचाप 10 लाख रुपये का इंतजाम कर उन्हें दे नहीं तो वे उसकी हत्या कर देंगे. वकील बालेश ने कहा कि उसके पास इतनी बड़ी धनराशि नहीं है. काफी देर बहस होने के बाद आरोपितों ने वकील को 5 लाख देने की बात कही. वकील बालेश ने कहा कि उसके पास इतना रुपये नहीं है. आरोपित दो लाख पर आ गए. इसके बाद वकील बालेश ने कहा कि उसके घर पर 20 हजार की नकदी रखी हुई है, 10 हजार कहीं बाहर से लेकर उन्हें दे सकता है. जिस पर उन्होंने वकील के साथ मारपीट करनी शुरू कर दी और किसी रिश्तेदार को फोन कर रूपये मंगवाने की बात कही.

बालेश ने अपने दो जानकारों को फोन किया, पर उन्होंने फोन नहीं उठाया. बालेश ने अपने साले सचिन को फोन कर रुपयों की मांग की. जिस पर सचिन ने कहा कि उसके पास अभी पैसा नहीं है. लेकिन जितने कहोगे उतना इकट्ठे कर दूंगा. आरोपियों ने इतना बात सुनते ही दो लाख रुपयों की डिमांड की. जिस के बाद वकील ने अपने साले को अधिक से अधिक रुपये एकत्र करने को कहा. करीब आधे घंटे बाद सचिन ने बालेश को फोन किया और एक लाख रूपये इकट्ठे होने की बात कह कर वकील को समालखा बुलाया. वहीं आरोपितों ने गाड़ी को समालखा की ओर घुमाया दिया. जबकि वकील बालेश का साला सचिन, अपने सुसर धर्मपाल व अपहृत के भांजे प्रदीप के साथ एक लाख रूपये की नगदी लेकर बालेश का इंतजार करने लगे. आरोपित, बालेश को लेकर समालखा पहुंचे और चेतावनी दी कि रूपये लेकर तुरंत कार में बैठ जाना, नहीं तो तेरे साथ रिश्चतेदारों को भी मार डालेंगे. अपनी व रिश्तेदारों की जान खतरे में देख बालेश ने रिश्तेदारों से रूपये लिए और कार में सवार हो गया. वकील बालेश ने बताया कि अपने अपहरण की घटना से वह बहुत डरा हुआ था इसके चलते उसने इस घटना की जानकारी परिजनों को भी नहीं दी.

शनिवार को हौसला जुटा कर बालेश ने इस घटना की जानकारी अपने परिजनों को दी. बालेश ने थाना सिटी को अपने अपहरण की शिकायत दी. शनिवार की देर शाम पुलिस ने बालेश की शिकायत पर अज्ञात लोगों पर अपहरण के आरोप में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है. दूसरी ओर, पानीपत जिला बार संघ के अध्यक्ष शेर सिंह खर्ब ने बताया कि वकील बालेश के अपहरण व उससे फिरौती वसूले जाने की जानकारी उन्हें नहीं है, सोमवार को बालेश से मिल कर इस मामले की जानकारी ली जाएगी. बालेश के अपहरण मामले में जरूरत पडने पर पानीपत बार एसोसिएशन की बैठक बुलाई जाएगी. वकील का अपहरण होना बहुत बड़ी बात है, बार इस मामले को बहुत ही गंभीरता से लेगा. इधर, सिटी थाने के एसएचओ विक्रांत ने बताया कि वकील बालेश ने अपने अपहरण की शिकायत पुलिस को दी है, अज्ञात लोगों पर केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी गई है. जल्द ही इस आरोपितों की शिनाख्त कर उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*