Monday , 19 November 2018
Breaking News

छत्तीसगढ़ में आज थम जाएगा चुनाव प्रचार, नक्सल प्रभावित 18 सीटों पर 12 नवंबर को होगा मतदान

रायपुर, 10 नवंबर, (उदयपुर किरण). छत्तीसगढ़ में विधानसभा चुनाव के पहले चरण के लिए शनिवार शाम चुनाव प्रचार थम जाएगा. पहले चरण में 12 नवंबर को नक्सल प्रभावी जिलों की 18 विधानसभा सीटों पर मतदान होगा. पहले चरण में बस्तर संभाग के सुकमा जिले के सुकमा विधानसभा सीट, बीजापुर जिले के बीजापुर, दंतेवाड़ा जिले के दंतेवाड़ा, बस्तर जिले के चित्रकोट, बस्तर और जगदलपुर, नारायणपुर जिले के नारायणपुर, कोण्डागांव जिले के केशकाल और कोण्डागांव, कांकेर जिले के अंतागढ़, भानुप्रतापुर और कांकेर तथा राजनांदगांव जिले के खैरागढ़, डोंगरगढ़, राजनांदगांव, डोंगरगांव, खुज्जी और मोहला-मानपुर विधानसभा सीटों के लिए मतदान होगा. पहले चरण में जिन 18 सीटों पर मतदान होगा उनमें से 12 सीट अनसूचित जनजाति के लिए तथा एक सीट अनुसूचित जाति के लिए आरक्षित है.

पहले चरण में राज्य के 18 विधानसभा सीटों के लिए 31 लाख 79 हजार 520 मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे. शत प्रतिशत मतदान सुनिश्चित करने के लिए 4 हजार 336 पोलिंग बूथ बनाए गए हैं. इस चरण में 16 लाख 21 हजार 839 महिला, 15 लाख 57 हजार 592 पुरुष तथा 89 तृतीय लिंग के मतदाता अपने मताधिकार का प्रयोग कर सकेंगे. इस चरण में राज्य के आठ जिलों के 18 विधानसभा सीटों के लिए चुनाव होंगे.

राज्य में वर्ष 2013 में हुए विधानसभा चुनाव में बस्तर के कुल 12 विधानसभा सीटों में से 8 सीटों पर कांग्रेस को तथा 4 सीटों पर बीजेपी को जीत मिली थी. वहीं राजनांदगांव के 6 सीटों में से 4 सीटों पर कांग्रेस और 2 सीटों पर बीजेपी को जीत मिली थी. इस तरह पहले चरण में होने वाले 18 सीटों में से कांग्रेस के पास 12 और बीजेपी के पास 6 सीटें हैं. इन सीटों में से राजनांदगांव सीट से मुख्यमंत्री रमन सिंह विधायक हैं और इसबार भी वो इस सीट से ही चुनाव लड़ रहे हैं. वहीं नारायणपुर सीट से स्कूल शिक्षा मंत्री केदार कश्यप और बीजापुर सीट से वन मंत्री महेश गागड़ा विधायक हैं. इनके भी भाग्य का फैसला 12 नवंबर को मत पेटी में बंद हो जाएगा.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*