Monday , 19 November 2018
Breaking News

कर्नाटक : भारी विरोध के बीच टीपू जयंती मनी

बैंगलुरु . कर्नाटक में भारतीय जनता पार्टी के भारी विरोध प्रदर्शन के बीच सत्तारूढ़ जेडीएस-कांग्रेस सरकार शनिवार को टीपू जयंती मना रही है. जयंती समारोहों के खिलाफ सूबे में भारी विरोध शुरू हो रहा है. प्रदर्शनकारी सड़क पर उतर आए हैं.

karnataka-tipu-jayanti पुलिस ने भाजपा के कई नेताओं को हिरासत में लिया है. भारी विरोध और प्रदर्शन के बीच आम जनजीवन प्रभावित हुआ है. प्रदर्शन को देखते हुए सड़कों पर गाड़ियां नहीं चल रही हैं. लोग जरूरी काम होने पर ही घर से बाहर निकल रहे और कई जगहों पर सड़कों पर सन्नाटा भी पसरा है. कोड़गू और विराजपेट सहित कई इलाके प्रभावित हुए हैं.

कर्नाटक के मडिकेरी में टीपू जयंती समारोह का विरोध कर रहे कई लोगों को पुलिस ने आज सुबह हिरासत में ले लिया. भाजपा कार्यकर्ताओं ने टीपू जयंती के विरोध में डेप्‍युटी कमिश्‍नर के ऑफिस में नारेबाजी भी की. मांड्या में भाजपा कार्यकर्ताओं ने टीपू जयंती के विरोध में काला दिवस मनाया है.

इस बीच कर्नाटक के अल्‍पसंख्‍यक कल्‍याण मंत्री जमीर अहमद खान ने पूर्व मुख्‍यमंत्री सिद्धारमय्या से मुलाकात की है. कोड़गू पुलिस ने प्रदर्शन कर रहे भाजपा एमएलए और पूर्व विधानसभा अध्‍यक्ष केजी बोपैया को हिरासत में ले लिया. कोड़गू में भाजपा के प्रदर्शन के कारण आम जनजीवन ठप हो गया है.



राज्‍य के मुख्‍यमंत्री एचडी कुमारस्वामी ने स्वास्थ्य कारणों का हवाला देते हुए कार्यक्रम से किनारा कर लिया है. माना जा रहा है कि विवाद से बचने के लिए सीएम ने जानबूझकर इस कार्यक्रम से खुद को अलग कर लिया है. मुख्‍यमंत्री कार्यालय से जारी सूचना के मुताबिक कुमारस्वामी की तबीयत खराब है और डॉक्टरों ने उन्हें तीन दिनों तक आराम करने की सलाह दी है.

राज्‍य के कैबिनेट मंत्री बी. काशेमपुर ने कहा है कि सीएम कुमारस्वामी ने कार्यक्रम के लिए विभाग को पूरी अथॉरिटी दी हुई है. उन्‍होंने कहा, ‘मैं बीदर में टीपू जयंती कार्यक्रम में रहूंगा, जबकि जेडीएस मंत्री वेंकटराव नाडागौड़ा बेंगलुरु में सीएम की जगह पर कार्यक्रम करेंगे.’

भाजपा ने टीपू सुल्‍तान को ‘अत्‍याचारी’ बताते हुए कांग्रेस से उनकी तुलना की है. भाजपा ने ट्वीट कर कहा, ‘ कांग्रेस पार्टी और टीपू दोनों ही हिंदू विरोधी हैं. दोनों ही हिंदुओं की हत्‍या के लिए दोषी हैं. दोनों ही अल्‍पसंख्‍यकों के तुष्‍टीकरण में विश्‍वास रखते हैं. दोनों ही हिंदुओं को बांटना चाहते हैं. इसलिए कोई आश्‍चर्य नहीं है कि कांग्रेस अत्‍याचारी टीपू की पूजा कर रही है.

कर्नाटक भाजपा ने कहा कि जहां कांग्रेस और जेडीएस सरकार अत्‍याचारी टीपू सुल्‍तान की जयंती मना रहे हैं वहीं सीएम कुमारस्‍वामी छिप गए हैं. एक उन्‍मादी का जन्‍मदिन मनाने की क्‍या आवश्‍यकता है जब सीएम ने खुद ही आयोजन से किनारा कर लिया है. वोटबैंक के लिए एक हत्‍यारे को महिमा मंडित करना इस सरकार की मानसिकता को दर्शाता है.

केंद्रीय मंत्री अनंत कुमार हेगड़े ने कहा है कि एक अत्‍याचारी के जन्‍मदिन को मनाने की कोई जरूरत नहीं है. टीपू सुल्‍तान हिंदू विरोधी थे. भाजपा प्रवक्‍ता एस प्रकाश ने कहा कि जब पिछली कांग्रेस सरकार ने टीपू जयंती मनाने का फैसला किया था, उस समय उनका काफी विरोध हुआ था.

राज्‍य के डेप्‍युटी सीएम और गृहमंत्री डॉक्‍टर जी परमेश्‍वर ने कहा है कि किसी भी अप्रिय घटना से निपटने के लिए आयोजन स्‍थल के आसपास आरएएफ को तैनात किया गया है. इसके अलावा श्रीरंगपट्टनम और कोडागू में शुक्रवार शाम से रविवार सुबह तक के लिए धारा 144 लागू कर दी गई.

राज्‍य में कांग्रेस पार्टी वर्ष 2014 से टीपू जयंती मना रही है जिसका भाजपा विरोध करती रही है. भाजपा का आरोप है कि टीपू जयंती कार्यक्रम मुस्लिम तुष्‍टीकरण के लिए आयोजित किया जा रहा है.



Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*