Friday , 14 December 2018
Breaking News

रंग रोगन कर रहा मजदूर रेलवे पुल से नीचे नदी में गिरा

छपरा, 08 दिसम्बर (उदयपुर किरण). पूर्वोत्तर रेलवे के छपरा – बलिया रेल खंड पर मांझी में सरयू नदी पर स्थित रेलवे पुल से 50 फीट नीचे सरयू नदी में एक मजदूर शनिवार को गिर गया जिसका कोई अता पता नहीं चल सका है. उसको ढूंढने का प्रयास स्थानीय पुलिस और रेलवे पुलिस कर रही है. बताया जाता है कि छपरा – बलिया रेल खंड का विद्युतीकरण का कार्य 5 दिसम्बर को पूरा हो गया. इस रेल खंड पर ट्रेनों के परिचालन के लिए हाईटेंशन तार लगा हुआ है और उसमें विद्युत की धारा प्रवाहित हो रही है. शनिवार को मांझी रेलवे पुल के रंग रोगन का कार्य ठेकेदार ने शुरू कराया. करीब एक दर्जन मजदूर काम कर रहे थे. इसी दौरान एक मजदूर हाईटेंशन विद्युत तार की चपेट में आ गया.

आस पास – काम कर रहे मजदूरों ने देखा और शोर मचाने लगे. इसी बीच हाईटेंशन तार से झुलस कर मजदूर पुल से 50 फीट नीचे सरयू नदी में गिर गया. इस घटना के बाद मजदूरों व आस – पास के लोगों ने उसको नदी में ढूंढने का प्रयास किया लेकिन अभी तक मजदूर नहीं मिला है. वह जीवित है या मर गया. यह स्पष्ट नहीं है, क्योंकि अभी तक उसको बरामद नहीं किया जा सका है.

प्रत्यक्षदर्शियों ने बताया कि मजदूर हाईटेंशन विद्युत तार की चपेट में आने से पूरी तरह झुलस गया था जिसके बाद वह सीधे नदी में गिरा और नदी की तेज धारा में बहते हुए पूरब की ओर चला गया. बताया जाता है कि गिरा युवक बेगुसराय जिले के चकिया बरौनी थाना क्षेत्र के मलहीपुर निवासी अशोक साह का पुत्र दीपक कुमार ( 20 वर्ष) है. समस्तीपुर के ठेकेदार बालेशवर सिंह ने मांझी रेलवे पुल के रंग रोगन का कार्य कराने का ठेका ले रखा है लेकिन विद्युतीकरण हो चुके रेलवे पुल पर काम करने के लिए सेफ्टी का कोई इंतजाम नहीं किया गया है.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*