Sunday , 20 January 2019
Breaking News

सड़क हादसे में विधानसभा उपाध्यक्ष के फॉलो वाहन के 3 पुलिसकर्मी शहीद, चालक की मौत

बालाघाट, 14 जनवरी (उदयपुर किरण) (अपडेट). रविवार को पूरा बालाघाट जिला विधानसभा उपाध्यक्ष हीना कांवरे के आगमन की खुशी में उठा डूबा हुआ था, उसी बालाघाट जिले में मध्यरात्रि के हादसे के बाद सोमवार की सुबह बुरी खबर लेकर आई. मध्यरात्रि में हट्टा थाना अंतर्गत सालेटेका चौराहे के पास विधानसभा उपाध्यक्ष का काफिला जब उनके गृहग्राम किरनापुर लौट रहा था. इस दौरान ही रजेगांव की ओर से आ रहे ट्राले ने विधानसभा उपाध्यक्ष के वाहन को मारते-मारते पीछे आ रहे फॉलोवाहन को टक्कर मार दिया. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि फालो वाहन के परखच्चे उड़ गये. पूरी तरह क्षतिग्रस्त फालोवाहन में सवार उपनिरीक्षक हर्षवर्धन सोलंकी और प्रधान आरक्षक हमिद शेख घटनास्थल पर ही शहीद हो गये, जबकि गंभीर रूप से घायल पुलिसकर्मी राहुल कोलारे इलाज के दौरान शहीद हो गये. इस घटना में फॉलोवाहन का चालक सचिन सहारे की भी मौत हो गई. जबकि इस घटना में एक पुलिसकर्मी अमित कौरव की स्थिति गंभीर बताई जा रही है.

सभी शहीद पुलिसकर्मियों और चालक का सोमवार को सुबह जिला चिकित्सालय में पोस्टमार्टम किया गया. जिसके बाद शवों को शहीद स्मारक ले जाया गया, जहां शहीद पुलिसकर्मियों को विधानसभा उपाध्यक्ष हिना कांवरे, आईजी केपी व्यंकटेश्वर, कलेक्टर दीपक आर्य, पुलिस अधीक्षक जयदेवन ए., पुलिस अधीक्षक अभिषेक तिवारी, अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक आकाश भूरिया, नक्सल सेल एडीएसपी संदेश जैन, शहीद पुलिसकर्मी के साथ रहे अधिकारी, कर्मचारियों के साथ ही भाजपा युवा नेत्री मौसम, हरिनखेड़े, वरिष्ठ कांग्रेसी भीम फुलसुंघे, भाजपा युवा नेता सुरजीतसिंह ठाकुर, देवेन्द्र ठाकरे सहित परिजनों और नागरिकों ने भावभीनी पुष्पांजलि और श्रद्धांजलि दी. पूर्व मंत्री और बालाघाट विधायक गौरीशंकर बिसेन ने भी शहीद जवानों और चालक की मौत पर दुःख जाहिर करते हुए विधानसभा उपाध्यक्ष के कुशलक्षेम की कामना की है.

इस घटना में शहीद पुलिसकर्मियों को कर्तव्य के दौरान शहीद होने पर एक करोड़ रुपये की राशि राज्य शासन और तत्काल सहायता पुलिस विभाग की ओर से सभी शहीद पुलिसकर्मियों को एक-एक लाख रुपये निजी वाहन चालक के परिजनों को 50 हजार रुपये, चालक के परिवार को जिला प्रशासन की ओर से 50 हजार रुपये की तत्कालिक सहायता राशि प्रदान की गई है.

घटनाक्रम के अनुसार रविवार, 13 जनवरी को लांजी विधायक हिना कांवरे के मध्यप्रदेश विधानसभा उपाध्यक्ष बनने के बाद बालाघाट प्रथम नगरामन हुआ था. देर रात तक विधानसभा उपाध्यक्ष का शहर में स्वागत होता रहा. बालाघाट में कांग्रेसियों द्वारा किये गये गर्मजोशी स्वागत से अभिभूत होकर और सभी वरिष्ठ कांग्रेसियों से मुलाकात के बाद रात लगभग 12 बजे विधानसभा उपाध्यक्ष हीना कांवरे अपने काफिले से गृहग्राम सोनपुरी लौट रही थी. इस दौरान ही सालेटेका चौक के पास भूसे से भरे एक ट्रक ने उनके वाहन को टक्कर मारते-मारते में पीछे से आ रहे फॉलोवाहन को टक्कर मार दी. टक्कर इतनी जबरदस्त थी कि फॉलोवाहन के परखच्चे उड़ गये.

इस हादसे में लांजी थाने में पदस्थ जिला शाजापुर अंतर्गत उपनिरीक्षक हर्षवर्धन सोलंकी पिता मान सिंह सोलंकी, बालाघाट वार्ड नंबर 13 गंगा नगर निवासी 50 वर्षीय प्रधान आरक्षक 812 हामिद शेख पिता मोहम्मद हबीब शेख, छिंदवाड़ा अंतर्गत चरगांव निवासी आरक्षक जाति मुसलमान उम्र 50 साल निवासी आरक्षक 1115 राहुल कोलारे पिता लेखराम कोलारे शहीद हो गये. जबकि फॉलो वाहन चालक किरनापुर थाना अंतर्गत नेवारा निवासी 22 वर्षीय सचिन पिता ब्रजलाल सहारे की मौत हो गई. वहीं नरसिंहपुर जिले के गाडरवारा थाना अंतर्गत महगवा निवासी अमित पिता कोमलसिंह कौरव गंभीर रूप से घायल है. जिसका ईलाज चल रहा है.
इस घटना के बाद से बालाघाट में गम का माहौल है. हर एक इस घटना से गमगीन है. जिले की पहले दर्दनाक हादसे ने त्यौहार की खुशी को गम में बदल दिया है. घटना के बाद आज 14 जनवरी की सुबह जिला चिकित्सालय में सभी चार शवों का पोस्टमार्टम किया गया. इस दौरान पुलिस अधीक्षक अमित सांघी, नक्सल सेल अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक संदेश जैन मौजूद थे. जिला चिकित्सालय से शवों को पोस्टमार्टम के बाद शहीद स्मारक पुलिस लाईन लाया गया. जहां शहीद स्मारक के समक्ष शवो को रखकर पुष्पाजंली और श्रद्धांजलि दी गई.

यह मेरे जीवन की बड़ी घटना

विधानसभा उपाध्यक्ष हीना कांवरे ने इस घटना पर दुःख जाहिर करते हुए कहा कि देखते ही देखते उनकी आंखो के सामने यह घटना घटित हो गई. किसी तरह सब लोगों ने मेहनत कर फॉलोवाहन में फंसे पुलिस कर्मियों को निकाला. जिनकी मौत हो गई. मैं स्वयं स्तब्ध हूं. यह मेरे जीवन की एक बड़ी घटना है. कल सब खुशी मना रहे थे और आज आंखों के सामने ऐसा हादसा बड़ा दुःखदायी है. उन्होंने शहीद पुलिसकर्मियों और मृतक चालक के परिजनों को सहायता राशि के लिए कलेक्टर, आईजी, एसपी से चर्चा की है. शहीद पुलिसकर्मियों को एक करोड़ रुपये की राशि प्रदान की जायेगी. वहीं मृतक चालक को पुलिस विभाग और रेडक्रास की ओर से 50-50 हजार रुपये की सहायता राशि देने की बात कही गई है.

पुलिसकर्मियों को दिया जायेगा शहीद का दर्जा

शहीद पुलिसकर्मियों की मौत पर दुःख जाहिर करते हुए पुलिस अधीक्षक जयदेवन ए ने बताया कि पुलिसकर्मियों को शहीद का दर्जा दिया जायेगा. शहीद पुलिसकर्मियों को एक करोड़ रूपये की राशि दी जायेगी. इसके अलावा विभागीय आर्थिक मदद, परिवार के एक व्यक्ति को अनुकंपा नियुक्ति और पेंशन का लाभ प्रदान किया जायेगा. उन्होने घटना में ट्रक चालक की गंभीर लापरवाही बताते हुए कहा कि चालक की पहचान कर ली गई है. जल्द ही उसे गिरफ्तार कर लिया जायेगा.

पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने जताया शोक

पूर्व मंत्री एवं विधायक गौरीशंकर बिसेन ने शहीद पुलिसकर्मियों और मृतक चालक के परिवार के प्रति शोक संवेदना जाहिर करते हुए कहा कि दुःख की इस घड़ी में पूरा भाजपा परिवार उनके साथ खड़ा है. साथ ही पूर्व मंत्री गौरीशंकर बिसेन ने विधानसभा उपाध्यक्ष सुश्री हिना कावरे के कुशलक्षेम की भी कामना की.

शहीद पुलिसकर्मी और चालक के परिवार से मिलकर मौसम ने की संवेदना व्यक्त

बालाघाट के शहीद स्मारक में शहीद पुलिसकर्मियों को श्रद्धांजली देने के बाद भाजपा युवा नेत्री शहीद पुलिसकर्मी बालाघाट वार्ड नंबर 13 गंगा नगर निवासी 50 वर्षीय प्रधान आरक्षक 812 हामिद शेख पिता मोहम्मद हबीब शेख के घर पहुंची. जहां उन्होंने शहीद पुलिसकर्मी के प्रति परिवार के प्रति शोक संवेदना जाहिर की. जिसके बाद श्रीमती मौसम फॉलो वाहन चालक किरनापुर थाना अंतर्गत नेवारा निवासी 22 वर्षीय सचिन पिता ब्रजलाल सहारे के घर पहुंची. जिनके साथ मौजूद पूर्व विधायक रमेश भटेरे ने मृतक चालक के प्रति शोक संवेदना जाहिर करते हुए परिवार के साथ खड़े रहने का भरोसा दिलाया. इस दौरान नगर अध्यक्ष सुरजीतसिंह ठाकुर, युवा नेता देवेन्द्र ठाकरे, किरनापुर मंडल अध्यक्ष देवीशंकर टेंभरे और समाजसेवी रामकुमार राणा मौजूद थे.

Loading...

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*