Saturday , 25 May 2019
Breaking News

किशोरी से छेड़छाड़ करने वाले को डेढ़ साल की कड़ी कैद

उदयपुर. किराणे की दुकान पर बैठ कर पढ़ाई कर रही नाबालिग किशोरी के साथ छेड़छाड़ कर जबर्दस्ती करने का प्रयास करने वाले आरोपी को अदालत ने डेढ़ वर्ष के कठोर कारावास और 6500 रूपए जुर्माने की सजा सुनाई.

प्रकरण के अनुसार 3 अगस्त 2016 को मावली थाने में नाबालिग पीडि़ता के पिता ने रिपोर्ट दर्ज कराई कि 2 अगस्त 2016 की शाम को उसकी नाबालिग पुत्री रिहायशी मकान के बाहर किराणे की दुकान पर बैठ कर पढ़ रही थी, इसी दौरान रात्रि करीब साढ़े 9 बजे चमनपुरा हाल गायरिवास मावली निवासी कृष्णकान्त पुत्र पुष्पराज माली आया और उसने गुटखा व सिगरेट मांगी. पुत्री ने दे दिया. पुत्री को अकेला देख उसके साथ छेड़छाड़ कर जबर्दस्ती करने लगा. पुत्री के चिल्लाने पर घर में मौजूद उसकी मां व आस-पड़ौसी भाग कर आए उस समय आरोपी ने उसे जकड़ रखा था. उसकी मां ने छुड़ाने का प्रयास किया तो उसके साथ गाली-गलौज कर मारपीट की. मावली थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर आरोपी को गिरफ्तार किया. उसके खिलाफ जांच पूर्ण कर अदालत में आरोप पत्र पेश किया. मामले की सुनवाई के दौरान विशिष्ट लोक अभियोजक धन सिंह झाला ने 9 गवाह व 11 दस्तावेज पेश कर आरोपी पर आरोप सिद्ध करने में सफल रहे. दोनों पक्षों की बहस सुनने के बाद विशेष न्यायालय लैंगिक अपराधों से बालकों का संरक्षण अधिनियम 2012 तथा बालक अधिकार संरक्षण आयोग अधिनियम 2005 क्रम-2 की अदालत के पीठासीन अधिकारी दिनेश त्यागी ने आरोपी कृष्णकांत को दोषी करार देते हुए भादसं की धारा 354 में एक साल के कठोर कारावास, दो हजार रूपए जुर्माना, धारा 452 में डेढ़ वर्ष का कारावास दो हजार रूपए जुर्माना, धारा 509 में एक वर्ष का कठोर कारावास, दो हजार रूपए जुर्माना और धारा 323 में छह माह का कठोर कारावास व 500 रूपए जुर्माने की सजा सुनाई.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

*

Inline
Inline