12वीं की छात्रा की संदिग्ध हालातों में मौत

सोते समय अचानक होन लगी उल्टिया, अस्पताल पहुचने से पहले तोडा दम

भोपाल. राजधानी के बैरसिया थाना इलाके में 12 कक्षा में पढऩे वाली छात्रा की संदिग्ध हालातों में मौत हो जाने की घटना सामने आई है. अस्पताल की सूचना पर पहुची पुलिस ने मर्ग कायम कर शव को पीएम के बाद में परिजनों के हवाले करते हुए आगे की जांच शुरु कर दी है. बताया गया है कि मृतका घर की इकलौती बेटी थी.

  निजामुद्दीन मरकज मामले में FIR दर्ज – मामले की जांच दिल्ली पुलिस की क्राइम ब्रांच करेगी

थाना पुलिस के अनुसार अपने परिवार वालो के साथ बैरसिया मे रहने वाली 17 वर्षीय मोनिका अहिरवार पिता गणेशराम अहिरवार बैरसिया के ही एक स्कूल में 12 वीं कक्षा की पढ़ाई करती थी. बताया गया है कि परिवार में मां-पिता के अलावा उसके दो भाई हैं. दोनों स्कूली छात्र हैं, जबकि मोनिका घर की इकलौती बेटी थी. उसके पिता किसान हैं और बैरसिया इलाके में ही उनकी जमीन है. मृतका के परिजनों ने पुलिस को बताया कि सोमवार-मंगलवार की दरमियानी रात मोनिका खाना खाने के बाद में घर के एक कमरे में जमीन पर सो रही थी.

  गर्भवती ने दो मासूमों के साथ खुद को लगाई आग, तीनों की मौत

आधी रात के समय अचानक उसे उल्टियां करते देख परिवार वालो ने उसे तत्काल इलाज के लिये अस्पताल पहुंचाया. जहां डाक्टरों ने चेक करने के बाद में उसे मृत घोषित कर दिया. अस्पताल की सूचना पर मौके पर पहुंची पुलिस ने शुरुआती कार्यवाही के बाद शव को पीएम के लिए भेजा. पुलिस का कहना है कि पीएम रिपोर्ट आने के बाद ही मौत के सही कारणों का खुलासा हो सकेगा, वही परिजनों ने शुरुआती जांच मे बेटी की मौत पर किसी प्रकार की परेशानी की बात नही बताई है.

  मरकज में शामिल लोग सामने आएं, नहीं तो होगी सख्त कार्रवाई: सिसोदिया

Check Also

लॉक डाउन में फर्जी यात्रा अनुमति के मामले का खुलासा

होशंगाबाद. लॉक डाउन के दौरान सभी सीमाएं सील की गई हैं. आने जाने के लिए …