Thursday , 28 January 2021

नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए जेएनयू में 18 सदस्यी समिति

नई दिल्ली (New Delhi) . जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) ने नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन की तैयारी तेज कर दी है. जिसके तहत जेएनयू ने नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के लिए 18 सदस्यीय कमेटी गठित की है, जो इस मामले की सर्वोच्च कमेटी की तरह काम करेगी. जेएनयू कुलपति की तरफ से यह कमेटी गठित की गई है. प्रो. मजर आसिफ कमेटी के बतौर अध्यक्ष नेतृत्व करेंगे. इनके अलावा कमेटी में 17 सदस्य होंगे. इसमें कई स्कूलों, केंद्रों के डीन व अध्यक्षों को सदस्यों के तौर पर नामित किया गया है.

  जापान के पूर्व प्रधानमंत्री शिंजो आबे सहित 7 को पद्म विभूषण, 119 हस्तियों को पद्म पुरस्कार

जेएनयू के मुताबिक, कमेटी नई शिक्षा नीति व इसके क्रियान्वयन से जुड़े सभी मामलों को देखेगी और इस संबंध में सभी स्टेक होल्डर से रायशुमारी करेगी. इसके साथ ही कमेटी नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन को लेकर अपनी रिपोर्ट प्रस्तुत करेगी. गौरतलब है कि नई शिक्षा नीति के क्रियान्वयन के तहत जेएनयू 4 वर्षीय स्नातक पाठ्यक्रम शुरू करने व परास्नातक पाठ्यक्रम ऑनलाइन उपलब्ध कराने की योजना पर काम कर रहा है. इस पर नवंबर में हुई अकादमिक परिषद की बैठक में चर्चा भी की जा चुकी है. बैठक में इस योजना को अमलीजामा पहनाए जाने के लिए कमेटी गठित करने की बात कही गई थी. अब कमेटी के गठन के बाद जेएनयू के पाठ्यक्रम व शिक्षा मॉडल में बदलाव की संभावनाएं तेज हो गई हैं.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *