हिमाचल पंचायत चुनाव में युवा आगे, 21 वर्षीय सोनिका लता बनी प्रधान

शिमला (Shimla) . हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh)में पंचायत चुनाव का आज अंतिम चरण है. इससे पहले दो चरणों में जनता ने युवाओं पर काफी भरोसा जताया है. कई इलाकों में छोटी सी उम्र में युवा चुनकर गांव की सरकार में पहुंचे हैं. ‎जिले की विकास खंड रोहड़ू की ब्रासली पंचायत में 21 वर्षीय सोनिका लता प्रधान चुनी गई हैं. सोनिका ने स्कूली शिक्षा के दौरान राजनीतिक शास्त्र की पढ़ाई की और अब समाज सेवा का सपना संजोया है. ब्रासली पंचायत के बलसा गांव के साधारण परिवार से ताल्लुक रखने वाली सोनिका लता ने अपनी परिवार की जरूरतों व उम्मीदों को करीब से महसूस किया हैं.

  कृषि मंत्री तोमर ने विपक्ष पर साधा निशाना, कहा- हम कानून में संशोधन के लिए तैयार पर...

सोनिका लता का जन्म 26 जून 1999 को हुआ है और वह एक साधारण परिवार से हैं. वह मेट्रिक और 12वीं में 75 फीसदी से ज्यादा अंक लेने के बाद आगे की पढ़ाई नहीं कर पाई और शादी के बंधन में बंध गई. 2 साल पहले सोनिका की 19 साल की उम्र में शादी हो गई थी. वह मूल रूप से चौपाल के दुर्गम इलाके पौड़ी की रहने वाली हैं. ब्रासली पंचायत में प्रधान पद आरक्षित था. सोनिका लता समेत कुल सात महिला प्रत्याशी मैदान में थी. इस दौरान सोनिका ने अपने प्रतिद्वंदी प्रत्याशी को 9 वोटों के अंतर से हराया. मंडी के सराज इलाके की खीरामणी ने 21 महीने 10 माह की उम्र में पंचायत प्रधान का चुनाव जीता था. वह दूसरे चरण में चुनकर आई हैं. वहीं अब सोनिका लता इस चुनाव की सबसे युवा प्रधान हो गई हैं हालांकि, मंडी की जबना चौहान अब भी देश की सबसे युवा प्रधान हैं.

Please share this news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *