छत्तीसगढ़ में 6 दिनों में 37 हजार पॉजिटिव

रायपुर (Raipur) (Raipur) . छत्तीसगढ़ (Chhattisgarh) में कोरोना संक्रमण की रफ्तार अब तक के सबसे भयावह दौर में पहुंच गई है. राज्य में अप्रैल के पहले 6 दिनों में 37 हजार मरीज मिल चुके हैं. औसतन 6 हजार से अधिक नए पॉजिटिव रोज मिल रहे हैं. मंगलवार (Tuesday) को राज्य में रिकॉर्ड 9,921 केस मिले और 53 मौतें हुई हैं. रायपुर (Raipur) (Raipur) में भी एक ही दिन में 2,821 मामले सामने आए, जबकि 26 मौतें हुई हैं. राजधानी में 1,001 व प्रदेश में कोरोना से मरने वालों की संख्या 4,400 पार कर गई. राजधानी में पहली मौत 29 मई को हुई थी. इस हिसाब से 312 दिनों में रोजाना औसतन 3.20 मरीजों की मौत हुई है.

  कोरोना को लेकर मुख्यमंत्री द्वारा उठाये कदम पर शहर विधायक ने किया आभार प्रकट

वहीं प्रदेश में रोजाना 14 से ज्यादा मरीजों की जान कोरोना से गई है. पिछले एक साल में 3 लाख 86 हजार 269 लोगों को कोरोना ने अपनी चपेट में लिया. अब तक 3 लाख 29 हजार 408 लोग ठीक हो चुके हैं. रायपुर (Raipur) (Raipur) कलेक्टर (Collector) ने अधिकारियों से कहा है कि शाम 6 बजे तक दुकानें बंद हो जानी चाहिए. अगर शाम 6 बजे के बाद कहीं भीड़ में लोग दिखें तो उनका आवश्यक रूप से कोरोना टेस्ट करें. पॉजिटिव आने की स्थिति में उनका इलाज करवाएं.

  जाधव और मनीष पांडे BCCI कॉन्ट्रेक्ट से बाहर

रायपुर (Raipur) (Raipur) में रजिस्ट्री दफ्तर सील

जिला प्रशासन की तरफ से कहा गया है कि रजिस्ट्री ऑफिस में कोरोना से 7 कर्मचारी संक्रमित पाए गए हैं. एहतियात के तौर पर इनके संपर्क में आए 30 अधिकारियों, कर्मचारियों और ऑपरेटरों का टेस्ट करवाया गया है. इन 30 लोगों की रिपोर्ट अब तक नहीं आई है. ऐसे में 48 घंटों के लिए इस दफ्तर को सील कर दिया गया है. रायपुर (Raipur) (Raipur) के महिला थाने में भी कुछ कर्मचारी संक्रमित हुए हैं.

  टीकमगढ़ में लगा पांच दिन का लॉकडाउन

विधानसभा सचिवालय भी बंद

विधानसभा के 7 अधिकारियों-कर्मचारियों के संक्रमित होने के बाद सचिवालय को बंद कर दिया गया है. 11 अप्रैल तक विधानसभा सचिवालय पूरी तरह बंद रहेगा. इस दौरान अधिकांश अधिकारी कर्मचारी होम क्वारैंटाइन हैं. रायपुर (Raipur) (Raipur) जिला प्रशासन ने 55 वर्ष से अधिक के कोरोना पॉजिटिव व्यक्तियों को होम आइसोलेशन की अनुमति नहीं देने का फैसला किया है. कलेक्टर (Collector) ने साफ कर दिया है कि इस आयु वर्ग के लोगों को एम्बुलेंस से अस्पताल पहुंचाया जाएगा.

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *