बंगाल में पहले चरण में केंद्रीय बलों की 415 कंपनियां तैनात की जाएगी

कोलकाता (Kolkata) . पश्चिम बंगाल (West Bengal) में 27 मार्च को होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Elections) के पहले चरण के लिए केन्द्रीय बलों की 415 कंपनियों को तैनात किया जाएगा. एक वरिष्ठ अधिकारी ने यह जानकारी देते हुए बताया कि सशस्त्र सीमा बल (एसएसबी) की 30 कंपनियां और केन्द्रीय औद्योगिक सुरक्षा बल (सीआईएसएफ) और भारत-तिब्बत सीमा पुलिस (Police) (आईटीबीपी) की पांच-पांच कंपनियां समेत केन्द्रीय सशस्त्र पुलिस (Police) बल (सीएपीएफ) की 200 कंपनियां अब तक राज्य में पहुंच चुकी हैं.

  मुख्यमंत्री ने मंडी व कुल्लू जिलों की कोविड-19 स्थिति की समीक्षा की

अधिकारी ने कहा, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस (Police) बलों (सीएपीएफ) की शेष 215 कंपनियां अगले कुछ दिनों में राज्य में पहुंचेंगी. इन बलों को उन विधानसभा क्षेत्रों में तैनात किया जाएगा, जहां पहले चरण में चुनाव होगा.” केंद्रीय बलों की प्रत्येक कंपनी में 100 कर्मी होते हैं. उन्होंने कहा कि पहले चरण में, पांच जिलों में 30 विधानसभा क्षेत्रों में चुनाव होंगे. इस चरण के लिए कुल 10,288 मतदान केंद्र बनाए गए हैं.

  पॉजीटिव होने के बावजूद यात्रा करना पड़ा भारी, इंडिगो सहित 3 के विरूद्ध FIR दर्ज

अधिकारी ने बताया कि पुरुलिया में 3,127 बूथ, बांकुरा में 1,328, पूर्व मेदिनीपुर में 2,437 और पश्चिम मेदिनीपुर में 2,089 बूथ होंगे. दिन में, चुनाव आयोग के विशेष पर्यवेक्षक अजय नायक और पुलिस (Police) पर्यवेक्षक विवेक दुबे ने जिलों में प्रशासन के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ कई बैठकें कीं. इसके अलावा, वे अतिरिक्त पुलिस (Police) महानिदेशक (कानून व्यवस्था) जग मोहन से भी मिले, जो राज्य पुलिस (Police) के नोडल अधिकारी हैं. अधिकारी ने कहा, ‘‘ज्यादातर चर्चा कानून एवं व्यवस्था, और पहले चरण में होने वाले चुनावों की तैयारियों को लेकर की गई.”

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *