गुजरात में नहीं थम रहा कोरोना का कहर, 620 नए केस आए सामने


अहमदाबाद (Ahmedabad). अहमदाबाद (Ahmedabad) समेत राज्यभर में कोरोना का कहर थमने का नाम नहीं ले रहा है. पिछले 24 घंटों में राज्य में कोरोना के 620 नए मामले सामने आए हैं. इस दौरान 422 लोग ठीक हुए हैं और 20 मरीजों की मौत हुई है. स्वास्थ्य विभाग के आंकड़ों के मुताबिक पिछले 24 घंटों के दौरान अहमदाबाद (Ahmedabad) में कोरोना के 197 नए केस दर्ज हुए और 137 लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हुए हैं और 9 मरीजों की कोरोना से मौत हुई है.

जबकि सूरत (Surat) कोरोना के 199 नए केस सामने आए हैं और 147 लोगों के ठीक होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है. सूरत (Surat) में कोरोना से 4 मरीजों की मौत हुई है. ऐसा पहली बार हुआ है, जब अहमदाबाद (Ahmedabad) से अधिक सूरत (Surat) में कोरोना के मामले दर्ज हुए हैं. वहीं वडोदरा में 52, वलसाज में 20, जामनगर में 18, आणंद में 14, गांधीनगर में 16, पाटन में 11, कच्छ में 9, भरुच में 8, मेहसाणा में 7, जूनागढ़ में 8, खेडा में 6, भावनगर में 8, राजकोट में 6, अरवल्ली में 5, पंचमहल में 5, साबरकांठा में 4, बोटाद में 4, सुरेन्द्रनगर में 4, गांदीनगर में 3, भावनगर में 3, जामनगर में 3, गिर सोमनाथ में 3, पोरबंदर में 3, अमरेली में 3, महीसागर में 2, नवसारी में 2, मोरबी में 2, बनासकांठा में 1, नर्मदा में 1, देवभूमि द्वारका में 1 अन्य राज्य 1 समेत कोरोना के कुल 620 नए मामले पिछले 24 घंटों में दर्ज हुए हैं.

  महाराणा सज्जन सिंह कालीन (1874-1884) : मेवाड़ राज्य विकास एवं जनहितार्थ कार्य

गुजरात में 620 नए मामलों के साथ कोरोना का आंकड़ा 32446 पर पहुंच गया है. जबकि अब तक राज्य में 23670 लोगों को स्वस्थ होने के बाद डिस्चार्ज किया गया है. पिछले 24 घंटों में अहमदाबाद (Ahmedabad) में 9, सूरत (Surat) में 4, वडोदरा में 2, गांधीनगर में 2, जूनागढ़ में 1, पाटन में 1 और नवसारी 1 समेत राज्य में 20 मरीजों की कोरोना से मौत हो गई. राज्य में कोरोना से अब तक कुल 1848 मरीजों की मौत हो चुकी है. जिसमें सबसे अधिक 1441 मरीजो की मौत अहमदाबाद (Ahmedabad) में हुई है. जबकि सूरत (Surat) में कोरोना से अब तक 156 मरीजों की मौत हुई है. राज्य में अब तक 373663 टेस्ट किए गए, जिसमें 32446 पॉजिटिव केस दर्ज हुए हैं. इसमें 23670 लोग कोरोना को मात देकर स्वस्थ हो चुके हैं. जबकि 1848 मरीजों की कोरोना से अब तक मौत हो चुकी है. शेष 6928 सक्रिय मरीजों में 6857 की हालत स्थिर है और 71 मरीज वेन्टीलेटर पर हैं.

  रेलवे का निजीकरण रक्तशिराओं काटने जैसा : छोटे फायदे के लिए आधी से ज्यादा आबादी का नुकसान नहीं करें

Check Also

राजस्‍थान में एसओजी के जवान ने बंदर को बनाया निशाना

जयपुर (jaipur). राजस्थान (Rajasthan) में पुलिस (Police) के जवान ने एक बंदर को अपनी गोली …