Wednesday , 14 April 2021

भूपाल नोबल्स विश्विद्यालय के फैकल्टी ऑफ फार्मेसी के 7 विद्यार्थियों का ग्रेजुएट फार्मेसी एप्टीट्यूट टेस्ट (GPAT) में चयन

उदयपुर (Udaipur). भूपाल नोबल्स विश्विद्यालय के फैकल्टी ऑफ फार्मेसी के 7 विद्यार्थियों का ग्रेजुएट फार्मेसी एप्टीट्यूट टेस्ट (GPAT) में चयन हुआ. फार्मेसी के अधिष्ठाता डॉ युवराज सिंह सारंगदेवोत ने बताया कि महाविद्यालय के  इशिता शर्मा, आशूल नागौरा, प्रशांत शर्मा, मोनिका बाकोलिया, भुवनेश बनिया, सीमा देवी और तेजाराम ने अखिल भारतीय स्तर की GPAT परीक्षा में सफलता अर्जित की.

  कुराबड टोल नाके वाले दिखे लापरवाह, कोरोना प्रोटोकॉल उल्लंघन पर की कार्यवाही

ज्ञातव्य है कि इस परीक्षा में सफल होने पर विद्यार्थियों को भारत सरकार की और से कुछ चुनिंदा महाविद्यालयों में उच्च अध्ययन हेतु छात्रवृत्ति प्रदान की जाती है. प्राचार्य डॉ सिद्धराज सिंह सिसोदिया ने बताया कि इस वर्ष GPAT की मेरिट बहुत हाई गयी और ऐसे में सात विद्यर्थियों का बी एन कॉलेज से चयन होना बहुत महत्वपूर्ण है. बी एन आई पी एस प्राचार्य प्रोफ. चेतन सिंह चौहान ने बताया कि इन छात्रों की सफलता उदयपुर (Udaipur) के लिए बहुत गौरव की बात है.

  वीर शिरोमणि महाराणा प्रताप का अपमान करने वाले का मुँह काला करना चाहिए - समर सिंह बुंदेला

बी एन विश्वविद्यालय के प्रेसिडेंट प्रोफेसर एन बी सिंह, भूपाल नोबल्स संस्थान के सचिव डॉ महेंद्र सिंह आगरिया, प्रबंध निदेशक मोहब्बत सिंह राठौड़,  रजिस्ट्रार डॉ रघुवीर सिंह चौहान और  कैरियर काउंसलिंग एंड प्लेसमेंट डायरेक्टर डॉ कमल सिंह राठौड़ ने सभी विद्यार्थियों के उज्जवल भविष्य की कामना करते हुए उन्हें बधाई प्रेषित की. इन छात्रों ने अपनी सफलता का श्रेय नियमित अध्ययन, गुरुजनो का मार्गदर्शन  माता-पिता का आशीर्वादऔर कड़ी मेहनत को दिया.

  चलती कार में आग, 5 गुजराती पर्यटकों ने कूदकर बचाई जान

Rajasthan news

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *