चार राज्यों में अब 98,270 कोरोनावायरस संक्रमित, देशभर में 4147 मौतें


नई दिल्ली (New Delhi). कोरोनावायरस संक्रमण के सर्वाधिक मामले महाराष्ट्र, तमिलनाडु, गुजरात और दिल्ली में सामने आ रहे हैं. सोमवार (Monday) को इन चारों राज्यों में संक्रमित मरीजों की संख्या 98,270 हो गई. सोमवार (Monday) को चारों राज्यों में मिलाकर 4281 कोरोनावायरस संक्रमित रात 10 बजे तक मिले. इस प्रकार सारे देश में कोरोना (Corona virus) से संक्रमित होने वाले लोगों की संख्या सोमवार (Monday) को रात 10 बजे तक 1 लाख 44 हजार 276 पहुंच गई थी. इनमें से 4117 मरीजों की मृत्यु हो चुकी है जबकि 60,137 ठीक हो गए हैं. सोमवार (Monday) को पूरे देश भर में 2443 मरीज ठीक भी हुए. सोमवार (Monday) को महाराष्ट्र (Maharashtra) में एक बार फिर कोरोनावायरस संक्रमण के 2436 मामले सामने आने के बाद पीड़ितों की संख्या बढ़कर 52,667 हो गई. इनमें से 35,186 एक्टिव मामले हैं. 1695 लोगों की मृत्यु हो चुकी है, बाकी ठीक हो चुके हैं.

  भारी बारिश से पानी-पानी हुई मुंबई, निचले इलाकों में बाढ़ जैसे हालात

तमिलनाडु में भी सोमवार (Monday) को कोरोनावायरस संक्रमण के 805 नए मामले सामने आने के साथ पीड़ितों की संख्या 17,082 हो गई. इनमें से 8731 ठीक हो चुके हैं, जबकि 119 की मौत हो चुकी है. गुजरात में कोरोना (Corona virus) संक्रमण के 405 नए मामले सामने आने के साथ पीड़ितों की संख्या बढ़कर 14,468 हो गई. इनमें से 888 की मौत हो चुकी है, जबकि 6636 ठीक हो चुके हैं. देश की राजधानी दिल्ली में सोमवार (Monday) को कोरोना (Corona virus) संक्रमण के 635 नए मामले सामने आने के साथ पीड़ितों की संख्या बढ़कर 14,053 हो गई. इनमें से 276 की मौत हो चुकी है और 6771 ठीक हो चुके हैं.

  बीसीसीआई बैठक में भविष्य दौरा कार्यक्रम के साथ ही घरेलू सत्र पर भी होगा फैसला

चार राज्यों के अलावा राजस्थान, मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश, पश्चिम बंगाल, आंध्रप्रदेश और बिहार में भी कोरोनावायरस तेजी से फैल रहा है. इन राज्यों में सोमवार (Monday) को बड़ी तादाद में कोरोना संक्रमित मिले. उड़ीसा में 102 नए संक्रमित मिलने के साथ पीड़ितों की संख्या 1438 पहुंच गई. असम में भी सोमवार (Monday) को 134 में संक्रमित मिलने के साथ पीड़ितों की संख्या 527 हो गई. नागालैंड में पहली बार तीन कोरोनावायरस संक्रमित मिले. नए राज्यों में कोरोनावायरस तेजी से फैलना और मरीजों की संख्या में लगातार वृद्धि चिंता का विषय है. देश के अधिकांश जिले कोरोनावायरस संक्रमण से ग्रसित हो चुके हैं. प्रवासी मजदूरों के अपने ग्रह स्थान पहुंचने और सरकारों द्वारा लॉक डाउन में ढील दिए जाने के कारण कोरोना (Corona virus) संक्रमण बढ़ रहा है.

  विकास को पकड़ने गए सीओ के चेहरे और सीने पर सटाकर मारी गई थी गोली, कुल्हाड़ी से भी किए गए वार

सरकार आर्थिक गतिविधियों को ज्यादा लंबे समय तक स्थगित नहीं रख सकती. ऐसी स्थिति में अगले दो माह भारत के लिए चुनौती भरे हो सकते हैं. यद्यपि 40% से अधिक मरीज ठीक भी हो रहे हैं लेकिन प्रतिदिन मिलने वाले मरीजों की संख्या प्रतिदिन ठीक होने वाले मरीजों की संख्या से लगभग दुगनी होने के कारण देश की स्वास्थ्य सेवाओं पर अतिरिक्त दबाव बढ़ गया है. देश में वेंटिलेटर से लेकर अन्य सभी स्वास्थ्य संसाधन सीमित मात्रा में हैं, इसलिए कोरोना (Corona virus) संक्रमण से ग्रसित मरीजों की संख्या बढ़ने पर स्थिति अनियंत्रित भी हो सकती है. सरकार (Government) को कुछ ऐसे उपाय करने होंगे जिससे संक्रमण की रफ्तार थमे और दैनिक जीवन भी सुचारू रूप से चालू हो सके.

Check Also

कैबिनेट की बैठक कल, विभागों पर मारामारी

आप यहां हैं :Home » राष्ट्रीय » कैबिनेट की बैठक कल, विभागों पर मारामारी भोपाल …