आंध्र मीडिया का एक हिस्सा जगन मोहन रेड्डी के भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहा है – तेदेपा


नई दिल्ली. तेलुगु देशम पार्टी (तेदेपा) ने आरोप लगाया है कि आंध्र प्रदेश की मीडिया का एक हिस्सा मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी की संलिप्तता वाले भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहा है. पार्टी ने कहा कि आयकर विभाग की छापेमारी में पता चली 2,000 करोड़ रुपये की कथित अघोषित आय को आंध्र प्रदेश में सत्तारूढ़ वाईएसआर कांग्रेस द्वारा तेदेपा और पार्टी प्रमुख एवं पूर्व मुख्यमंत्री एन चंद्रबाब नायडू से बेवजह जोड़ा गया. तेदेपा ने ट्विटर पर नायडू के पूर्व निजी सचिव पी श्रीनिवास राव के घर पर आयकर विभाग की छापेमारी के ‘पंचनामे’ को सार्वजनिक करते हुए कहा कि इसमें स्पष्ट रूप से उल्लेख है कि 2,63,000 रुपये पाए गए थे और यह रकम धन के स्रोत का पता लगने के बाद ‍उन्हें उन्हें लौटा दी गई.’

  कोरोना संक्रमण से मरने वालों की याद में आज शोक मनाएगा चीन

तेदेपा के संसदीय दल के नेता जय गल्ला ने ट्वीट किया कि वाईएसआर कांग्रेस तेदेपा सरकार के पांच साल के कार्यकाल के दौरान भ्रष्टाचार का कोई सबूत नहीं ढूंढ सकी और वह आयकर विभाग द्वारा पता लगाए गए 2000 करोड़ रुपये के भ्रष्टाचार’ को विपक्षी पार्टी और नायडू से बेवजह जोड़ रही है. पार्टी के अन्य सांसद राम मोहन नायडू ने आरोप लगाया कि आंध्र प्रदेश की मीडिया का एक हिस्सा मुख्यमंत्री वाईएस जगन मोहन रेड्डी की संलिप्तता वाले भ्रष्टाचार पर पर्दा डालने की कोशिश कर रहा है और जब श्रीनिवास राव के घर से कुछ लाख रुपये मिले तो तेदेपा नेताओं पर ‘फेक न्यूज़’ की ओर ध्यान भटकाया जा रहा है.

  तब्लीगी मरकज में सोशल डिस्टेंसिंग का नहीं रखा ध्यान, पुलिस ने जारी किया वीडियो

Check Also

क्वारनटीन सेंटर से निकलकर गेहूं पिसवाने पंहुचा युवक तो पुलिस ने पीटा, किया सुसाइड

लखीमपुर. उत्तर प्रदेश के लखीमपुर खीरी जिले के फरिया पिपरिया गांव से एक सनसनीखेज मामला …