हाइपरलूप की व्यावहरिकता देखने के बाद इसको लागू करने पर विचार होगा – अजित पवार


मुंबई. महाराष्ट्र के उप मुख्यमंत्री अजित पवार ने दूसरे देशों में हाइपरलूप तकनीक की व्यावहरिकता देखने के बाद इसको लागू करने का कहा है. पवार ने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक करने के बाद पत्रकारों से कहा कि अभी तक दुनिया में कहीं भी इस तकनीक का व्यावसायिक इस्तेमाल नहीं किया गया है.
उन्होंने कहा, ‘इसे कहीं लागू होने दीजिए, विदेश में कम से कम 10 किलोमीटर की दूरी के रूट में सफल होने दीजिए.’

  गर्भावस्था में रखें आहार का ख्याल

पवार से जब पूछा गया कि क्या शिवसेना-राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा)- कांग्रेस इस परियोजना को रद्द करने पर विचार कर रही है? पवार ने कहा, ‘‘ उन्होंने ऐसा नहीं कहा.” उन्होंने कहा, ‘‘ हाइपरलूप से प्रयोग करने की हमारी क्षमता नहीं है. इस बीच हम यातायात के अन्य तरीकों पर ध्यान केंद्रित करेंगे अगर विदेश में यह तकनीक सफल होगी तो हम इस पर विचार करेंगे.” उल्लेखनीय है कि उद्यमी एलन मस्क ने वर्ष 2012 में हाइपरलूप का विचार पेश किया था. यह ट्यूब आधारित तकनीक है जिसमें हवा के अवरोध के अभाव में वाहन उच्च गति से चलेंगे.

  कोहली को रोकने बाउंसर गेंदें फेंकी : बोल्ट

भाजपा के नेतृत्व वाली पिछली सरकार ने मुंबई से पुणे के बीच हाइपरलूप सेवा शुरू करने की घोषणा की थी जिससे दोनों शहरों के बीच की दूरी तय करने में लगने वाले समय में उल्लेखनीय कमी आती.

Check Also

नवविवाहिता ने फांसी लगाकर की खुदकुशी

भोपाल. राजधानी के गुनगा थाना इलाके मे नवविवाहिता द्वारा फांसी लगाकर खुदकुशी किये जाने का …